शमी को पड़ी वैवाहिक जीवन में योर्कर….

केन्यूज़\कोलकाता- भारतीय तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी को सोमवार कोलकाता की लोअर कोर्ट से मिला बड़ा झटका बीवी हसीन जहां और बेटी को गुज़ारा भत्ता के तौर पर 1,30,000 रूपए देने होंगे|

मामला दरअसल 2018 का है शमी की बीवी हसीनजहां ने जादवपुर पुलिस स्टेशन में इनके खिलाफ़ दहेज उत्पीड़न, घरेलू हिंसा और मैच फिक्सिंग सहित कई आरोप लगाए थे। जैसे आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था। मोहम्मद शमी हसीन जहां की शमी से मुलाकात 2011 IPL  के दौरान हुई थी| जब वो कोलकाता नाईट राइडर्स के लिए चीयरलीडिंग करती थी।इसके बाद दोनों ने प्रेम विवाह साल 2014 में किया। हसीन जहां ने शादी के बाद मॉडलिंग और एक्टिंग छोड़ दी थी और केस करने बाद से दोनों अलग-अलग रहने लगे और तभी से तलाक का केस चल रहा है। 2018 में हसीन जहां ने फिर से अपने प्रोफेशन में कदम रखा।

हसीन की वकील मृगांका मिस्त्री ने अदालत को बताया कि 2020-21 में शमी की सालाना आय 7 करोड़ रुपए थी। उसी के आधार पर गुजारा भत्ता की मांग की गई।

शमी के वकील सेलिम रहमान ने दावा किया कि इनकी दलील थी कि 10 लाख रुपए गुजारा भत्ता अनुचित नहीं है। अपील में शमी के आयकर रिटर्न का हवाला भी दिया गया। और यह भी कहा कि हसीन जहां खुद एक पेशेवर फैशन मॉडल हैं। वे खुद कमा रही हैं। इसलिए इतना गुजारा भत्ता ठीक नहीं है।

आपको बताते चले कि मार्च 2018 में जब शमी की हसीन जहां ने उन पर घरेलू हिंसा और मैच फिक्सिंग का आरोप लगाया था, तब BCCI ने शमी का कॉन्ट्रैक्ट रद्द कर दिया था। जांच में शमी निर्दोष पाए गए थे। कुछ दिन बाद बोर्ड ने कॉन्ट्रैक्ट रिन्यू कर दिया था।

और अभी न्यूज़ीलैण्ड के साथ सीरीज में उनका प्रदर्शन काफी सराहनीय है|

Leave a Reply

Your email address will not be published.