Nikay Chunav: UP नगर निकाय चुनाव की अधिसूचना पर लगी रोक जारी, फैसले से पहले कल हाईकोर्ट जानेगा सरकार का पक्ष

सोमवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ खंडपीठ द्वारा प्रदेश के नगर निकाय चुनाव की अधिसूचना पर रोक लगा दी गई थी। नगर निकाय चुनावों में ओबीसी आरक्षण लागू करने में प्रक्रिया का पालन न करने का आरोप राज्य सरकार पर लगाया गया था। बता दें कि दाखिल जनहित याचिका पर न्यायमूर्ति डीके उपाध्याय की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने यह आदेश दिया । मंगलवार को हुई सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की ओर से जवाब देने के लिए एक दिन का और समय देने की मांग की गई थी जिसे न्यायालय ने मंजूर कर लिया।

बता दें कि यह रोक14 दिसंबर यानी बुधवार जारी रहेगा। राज्य सरकार पर नगर निकाय चुनावों में ओबीसी के लिए आरक्षण लागू करने में प्रक्रिया का पालन न करने का आरोप लगाते एक जनहित याचिका दाखिल की गई थी।
न्यायमूर्ति डीके उपाध्याय की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने यह आदेश दिया है कि बुधवार तक इस आदेश पर रोक लगी है। आज यानी मंगलवार को हुई सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की ओर से जवाब देने के लिए एक दिन का और समय देने का अनुरोध किया गया था, जिसे अदालत ने मंजूर कर लिया।

इससे पहले, इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ पीठ ने सोमवार को राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) को राज्य में नगर निकाय चुनाव कराने की अधिसूचना जारी करने पर आज यानी मंगलवार तक अंतरिम रोक लगा दी थी। याचिकाकर्ताओं ने राज्य सरकार पर नगर निकाय चुनावों में ओबीसी आरक्षण लागू करने में प्रक्रिया का पालन नहीं करने का आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें-मेरठ के LLRM मेडिकल कॉलेज में 3 दिन के नवजात की सौदेबाजी, मां ने अपने ही बच्चे को 82 हजार रुपए में बेचा