BSP प्रमुख मायावती ने भारत-चीन झड़प पर जताई चिंता, बोलीं- इस पर तुरंत काबू पाना जरूरी

बसपा सुप्रीमो मायावती ने चीन सीमा पर दोनों देशों के सैनिकों के बीच हुए संघर्ष पर चिंता जताया। उन्होंने का कि इस पर तुरंत काबू पाना जरूरी है। मायावती ने मंगलवार को इस मामले को लेकर ट्वीट किया। साथ ही उन्होंने भारतीय सेना की प्रशंसा की और कहा कि सेना ने अपनी ख्याति के अनुरूप काम किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि अरुणाचल प्रदेश के तवांग सेक्टर में भारत और चीन की सेना के बीच खूनी संघर्ष और उसमें कई सैनिकों के घायल होने की खबर अति-दुःखद व चिन्तनीय है। यूक्रेन युद्ध के परिणामों से पीड़ित एवं सहमी दुनिया में भारत-चीन सेना के बीच नए संघर्ष पर तुरंत कूटनीतिक तरीके से काबू पाना जरूरी है।

मायावती ने कहा कि भारतीय सेना ने चीन के साथ ताजा मामले में भी एक बार फिर जैसे को तैसा मुंहतोड़ जवाब देकर अपनी प्रसिद्धि के अनुरूप कार्य किया है, जो सराहनीय है। अब सरकार की जिम्मेदारी है कि अपनी कुटनीतिक कुशलता का परिचय दे, यही देश को उम्मीद है। अपनी इंटेलीजेंस को भी और मजबूत बनाना होगा।

मायावती ने सपा पर साधा था निशाना

मैनपुरी लोकसभा उपचुनाव में सपा की प्रचंड जीत हुई थी।  लेकिन रामपुर विधानसभा उपचुनाव में आजम खान की  सीट पर सपा की पहली बार हुई हार हुई। जिसके बाद कहीं न कहीं यह बड़ा नुकसान रहा समाजवादी पार्टी के लिए। उपचुनाव  यह चर्चा काफी गर्म है। जिसके बाद मायावती ने सपा पर निशाना साधा था। हुए कहा था वहीं बसपा प्रमुख मायावती ने कहा कि रामपुर में हुई हार के बारे में खासकर मुस्लिम समाज को अधिक सोचने और समझने की भी ज़रूरत है। जिससे कि आगे होने वाले चुनावों में धोखा खाने से बचा जा सके। वहीं उन्होंने खतौली विधानसभा की सीट पर भाजपा को मिली हार पर सवाल उठाया था।

ये भी पढ़ें-Kanpur News: पुलिस हिरासत में युवा व्यवसायी की मौत, परिजनों ने किया जमकर हंगामा SOG टीम समेत नौ पुलिसकर्मी सस्पेंड