आपदा से विदेशी पर्यटकों ने उत्तराखंड से मुंह मोड़ा

आपदा से विदेशी पर्यटकों ने उत्तराखंड से मुंह मोड़ा

उत्तराखंड में आज तक विदेशी पर्यटकों ने सारे रिकार्ड तोड़े है लेकिन अब देखा जाए तो पर्यटकों की संख्या बेहद कम रही है। आंकड़ों के अनुसार 2019 के मुकाबले करीब 80 फीसदी से भी कम विदेशी पर्यटक टुरिस्ट वीजा पर उत्तराखंड घूमने आए है। उत्तराखंड में जो भी विदेशी आता है उसको यह आने के बाद हर जिले में स्थानीय इकाई यानी (एलआईयू) को जानकारी देनी होती है और साथ ही अपने वीजा का प्रकार और आने का मकसद बताना होता है फिर उसी के आधार पर विदेशियों की संख्या का आंकड़ा निकाला जाता है। इस साल 31अक्तूबर तक करीब 34 हजार विदेशी घूमने आए थे जबकि 2019 में 1 लाख 56 हजार पर्यटक आए थे।2019 में चार धाम और हेमकुंड साहिब में ही करीब 45 लाख 60 हजार पर्यटक आए थे । अब चार धाम और हेमकुंड साहिब में स्वदेशी पर्यटक की संख्या 25 फीसदी बढ़ गई है और वही विदेशी पर्यटकों काफी कम हो गए है। इसके पीछे का कारण कोरोना और प्राकृतिक आपदाओं का डर माना जा रहा है।