रायबरेली मेंं स्वास्थ के लिए दर-दर भटक रहे मरीज,डॉक्टर मिले नदारद

रिपोर्ट: मनीष अवस्थी

रायबरेली: सरकार के लाखों प्रयासों के बावजूद भी हरचंदपुर में स्वास्थ्य सेवाओं का दम निकल रहा है। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में अक्सर डॉक्टर नदारद रहते हैं। इस वजह से मरीजों को इलाज के लिए भटकना पड़ रहा है। वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि डॉक्टर के रूम में ताले लटके नजर आ रहे हैं। आज सुबह 9:00 बजे से लेकर 2:30 बजे तक सिर्फ एक डॉक्टर है जो की लाइन में लगे मरीजों का इलाज किया बाकी डॉक्टर नदारद रहे।

रायबरेली का हरचंदपुर स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पुराने ढर्रे पर चल रहा है। अस्पताल में पर्याप्त सुविधाएं नहीं, तो डॉक्टर भी मनमानी पर उतारू है। अक्सर डॉक्टर अपने केबिनों से नदारद रहते हैं। चर्चा में रहने वाला समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चैनपुर एक बार फिर चर्चा में आया और एक ही डॉक्टर के भरोसे पूरा दिन अस्पताल चलता रहा जबकि मरीजों की लाइन लगी थी लेकिन स्वास्थ्य विभाग नाखून कर बैठा हुआ है। बताया यह जा रहा है कि डॉक्टर अपने केबिनों में कभी समय से नहीं पहुंचते हैं। जब चाहे, उस समय अस्पताल पहुंचते हैं और जब मर्जी, तब चले जाते हैं। इसके चलते मरीजों को अस्पताल के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। घंटों मरीज डॉक्टरों के इंतजार में लाइनों में खड़े रहते हैं, लेकिन जब खड़े होने की हिम्मत नहीं होती, तो मायूस होकर अस्पताल से लौट जाते हैं।

अभी 1 दिन पहले ही मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने भी अस्पताल का निरीक्षण करते हुए डॉक्टरों को सख्त चेतावनी दी थी। इसके बावजूद भी डॉक्टरों की कार्यशैली में कोई सुधार नहीं हुआ है। अब देखने वाली बात यह होगी कि आखिर हरचंदपुर समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र की तरफ किसी भी अधिकारी का व स्वास्थ्य विभाग का ध्यान जाता है कि वह वैसे ही पुराने ढर्रे पर चलता रहेगा.