ओलंपिक: राष्ट्रीय निशानेबाजी चयन ट्रायल में शामिल होगे विजय और संजीव, मिलेगा ओलंपिक का कोटा

ग्रुप ए के निशानेबाजों के ये ट्रायल काफी जरूरी हैं क्योंकि इनमें प्रदर्शन के आधार पर बड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के लिए राष्ट्रीय टीम का चयन होगा जिसमें एशियाई खेल भी शामिल हैं।

 

ओलंपिक पदक विजेता विजय कुमार, अनुभवी निशानेबाज संजीव राजपूत, और युवा ओलंपियन दिव्यांश पंवार उन निशानेबाजों की सूची में शामिल हैं जो अगले साल आठ से 14 जनवरी तक डॉ. कर्णी सिंह रेंज में होने वाले राष्ट्रीय चयन ट्रायल में हिस्सा लेंगे।

ग्रुप ए के निशानेबाजों के ये ट्रायल काफी महत्वपूर्ण हैं क्योंकि इनमें प्रदर्शन के आधार पर बड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतियोगिताओं के लिए राष्ट्रीय टीम का चयन होगा जिसमें एशियाई खेल भी शामिल हैं। भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ  ने  साल 2023 के लिए निशानेबाजों को दो वर्ग में बांटा है। ग्रुप ए में शीर्ष स्तर के निशानेबाज शामिल हैं जबकि ग्रुप बी में उन निशानेबाजों को जगह दी गई है जो ओपन चयन ट्रायल के पात्र हैं।

एनआरएआई ने कहा कि ट्रायल सिर्फ ओलंपिक स्पर्धाओं के लिए होंगे। भारत ने अब तक 2024 पेरिस ओलंपिक के लिए तीन कोटा स्थान हासिल किए हैं और वे कोटे की संख्या बढ़ाना चाहेंगे। इसके अलावा उनकी नजरें एशियाई खेलों पर भी टिकी होंगी जहां भारतीय निशानेबाजों का प्रदर्शन अच्छा रहता है। लंदन ओलंपिक 2012 के रजत पदक विजेता विजय कुमार ने कहा कि इन दो चयन ट्रायल में वह निश्चित तौर पर अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं और पेरिस ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व करना चाहते हैं।