हिमांचल-पंजाब को जोड़ने वाला चक्की रेलवे पुल टूटा

कंडवाल में स्थित चक्की खड्ड पर बना हिमांचल-पंजाब को जोड़ने वाला पुल बह गया है। चक्की खड्ड का जलस्तर बढ़ने के कारण आसपास के लोग बहाव देखने के लिए पहुंचे थे, इसी दौरान एकदम से पुल टूट गया। शनिवार सुबह पुल का पिलर व दो स्पेम एकाएक गिर गए। पुल टूटने से कांगड़ा घाटी रेल का संपर्क भी पूरी तरह से कट गया है। हालाँकि रेलवे की टीम ने बीते माह में ही इस पुल को असुरक्षित घोषित कर दिया था जिसके चलते पठानकोट से जोगेन्द्रनगर ट्रैक के सारे रूट बंद कर दिए थे।

जानकारी के मुताबिक इसका कारण भी अवैध खनन है। खनन माफिया ने पुल के आगे पीछे दोनों जगह अवैध खनन कर करके चक्की खड्ड के बहाव को ही सिकोड़ दिया है। पहली ये मीलों फैलकर बहा करती थी वो अब सिकुड़ गई है। पुल की स्थिति यह है की वहाँ केवल 12-15 मीटर ही बहाव रह गया है, इसी कारण यह हादसा हुआ है।

हालाँकि कांगड़ा घाटी रेल से सफर करने वाले लोगों को उम्मीद थी की बरसात थमने के बाद पुल फिरसे शुरू होगा और वो लोग सस्ते में सफर कर पाएंगे। लेकिन इस पुल के गिर जाने से बरसात के बाद भी पुल दोबारा ठीक नहीं हो पाएगा। दो-तीन वर्ष पूर्व यहाँ रेलवे पुल गिरा था।