भारत के 14 वें उपराष्ट्रपति बने जगदीप घनखंड

नई दिल्ली  पश्चिम बंगाल के पूर्व राजपाल 71 वर्षीय जगदीप घनखंड जी को भारत की राष्ट्रपति द्रोपदी मुर्मू ने भारत के 14 वें उपराष्ट्रपति के रूप मे  शपथ दिलाई |इसकी घोषण भारत के चुनाव आयोग द्वारा की गई थी | भारत के सविधान के अनुच्छेद 56 (1)में प्रावधान हैं | की भारत का उपराष्ट्रपति पांच साल की अवधि के लिए पद पर रहेगा |उन्होंने विपक्षी उम्मीदवार मार्गरेट अल्वा को हराया | जिन्हे 200 से काम वोट मिले थे |देश के प्रधानमंत्री ने ट्वीट करकेउन्हे बधाई दी तथा साथ ही उनके सफल कार्य की कामना भी की | जगदीप जी जन्म 19 मई 1951 को राजस्थान के झुंझुनू जिले के कीठाना गाँव मे हुआ था |घनखंड ने 1989 मे राजनीति में प्रवेश किया और उसी वर्ष राजस्थान के झुंझुनु से लोकसभा के राज्य मंत्री के रूप में कार्य किया | वह 1991 में कांग्रेस में शामिल हुए | वह अजमेर लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र से 1991 का भारतीय आम चुनाव हार गए | 1998 के भारतीय आम चुनाव में झुंझुनू लोकसभा क्षेत्र से  हार गए ओर तीसरे स्थान पर या गए | 2003 में घनखंड भाजपा मे शामिल हुए | वे 2008 में भाजपा की विधानसभा चुनाव प्रचार समिति के सदस्य थे | 2016 में , उन्होंने भाजपा के काँ और कानूनी मामलों के विभाग का नेतृत्व किया |