बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा का कार्यकाल बढ़ा, नड्डा की अध्यक्षता में लड़ा जाएगा 2024 का लोकसभा चुनाव  

के-न्यूज, बीजेपी की राष्ट्रीय कार्यकारणी समीक्षा बैठक दिल्ली में चल रही है. जहां मंगलवार को राजनाथ सिंह के द्वारा एक प्रस्ताव पेश किया गया. जिसमें नड्डा के कार्यकाल को बढ़ाने की पेशकेश की गई थी. जिसे कार्यकारणी बैठक में सर्वसम्मति समर्थन के साथ इस प्रस्ताव को पास किया गया.

2024 के लोकसभा चुनाव तक बीजेपी की कमान जेपी नड्डा के पास रहेगी. ये अटकलें पहले से लगाई जा रहा थी कि नड्डा के कार्यकाल को बढ़ाया जा सकता है. नड्डा पर बीजेपी ने दोबारा विश्वास जताते हुए उनके कार्यकल को 1 साल ओर बढ़ा दिया है. इसकी जानकारी अमित शाह ने खुद आ कर मीडिया कर्मियों को दी.

 

बीजेपी का भरोसा, नड्डा के कार्यकाल में एक्सटेंशन

गृहमंत्री ने मीडिया में आकर बताया कि कार्यकारणी बैठक में राजनाथ सिंह के द्वारा प्रस्ताव पेश किया गया. जिसको सभी ने सर्वसम्मति के साथ स्वीकार लिया गया. अमित शाह ने बताया कि ये साल चुनाव का साल है. कोरोना काल की वजह से पिछले साल बीजेपी में सदस्यता अभियान नहीं हो सका था. जिस वजह से इस साल सदस्यता के अभियान को चलाया जाएगा. संविधान के हिसाब से ही हमने कार्य का विस्तार किया है. उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष रहते हुए हमारा बिहार में सबसे अधिक स्ट्राइक रेट रहा, महाराष्ट्र में भी NDA ने बहुमत हासिल किया. यूपी में भी जीते, बंगाल में हमारी संख्या बढ़ी. गुजरात में हमने प्रचंड विजय हासिल की. उत्तर पूर्व में भी काम किया.

2019 का रिकॉर्ड टूटने का लक्ष्य

जेपी नड्डा को पहली बार बीजेपी का अध्यक्ष 2019 के लोकसभा के चुनाव के बाद बनाया गया था. नड्डा ने बीजेपी की कमान अमित शाह से ही ली थी. अमित शाह ने इस बात पर जोर दिया कि पीएम मोदी के नेतृत्व में जेपी नड्डा के साथ 2024 के लोकसभा चुनाव में और ज्यादा बेहतर प्रदर्शन किया जाएगा. 2019 से से ज्यादा सीटें जीती जाएंगी. अब जानकारी के लिए बता दें कि जेपी नड्डा ने अमित शाह से ही पार्टी की कमान अपने हाथों में ली थी. जब 2019 के लोकसभा चुनाव में पार्टी ने प्रचंड बहुमत के साथ वापसी की थी, तब अमित शाह को केंद्र की राजनीति में लाया गया था. वे गृह मंत्री बना दिए गए थे.