सुप्रीम कोर्ट से अब्बास अंसारी को मिली 12 जून तक कस्टडी पैरोल, मुख्तार अंसारी की प्रार्थना सभा में हुआ शामिल

KNEWS DESK – गाजीपुर जिला जेल से अब्बास अंसारी को कड़ी सुरक्षा के बीच उसके पैतृक आवास मोहम्मदाबाद ले जाया गया। जहां से वह अपने पिता मुख्तार अंसारी के मिलाद कार्यक्रम मे शरीक हुआ| अब्बास को सुप्रीम कोर्ट से 12 जून तक कस्टडी पैरोल मिली है,  10 से 12 जून तक दिन में अपने घर पर परिजन के साथ रह सकेगा। शाम को उसे वापस गाजीपुर जेल लाया जाएगा। रात में अब्बास अंसारी को गाजीपुर जेल में ही रहना होगा।

पिता मुख्तार अंसारी के मिलाद कार्यक्रम में हुआ शरीक

बता दें कि सोमवार को सपा विधायक अब्बास अंसारी को सोमवार को जिला जेल से उनके पैतृक आवास ले जाया गया। जहां से वो आज मुहम्मदाबाद के कालीबाग कब्रिस्तान पहुंचा। कब्रिस्तान में पहुंच कर अब्बास अपने पिता मुख्तार अंसारी के मिलाद कार्यक्रम में  शरीक हुआ। इस दौरान अब्बास ने अपने पिता मुख्तार अंसारी की कब्र पर चादरपोशी कर फातिहा पढ़ा। इससे पूर्व वो अपने पैतृक घर मुहम्मदाबाद के फाटक पर परिजनों के साथ रहा।

Mukhtar Ansari s son Abbas gets relief from Supreme Court gets permission to go to Ghazipur for father s prayer meeting - मुख्तार अंसारी के बेटे अब्बास को सुप्रीम कोर्ट से राहत,

9 जून को कासगंज जेल से गाजीपुर जेल लाया गया था

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट से अब्बास को 12 जून तक कस्टडी पैरोल मिली है। जिसके बाद उसे 9 जून को कासगंज जेल से गाजीपुर जेल लाया गया था। जहां से उसे उसके पैतृक घर लाया गया और शाम को वो भारी सुरक्षा के बीच कब्रिस्तान पहुंचा और मुख्तार के मिलाद कार्यक्रम में शरीक हुआ।

13 जून को कासगंज जेल वापस शिफ्ट किया जायेगा अब्बास अंसारी

कार्यक्रम के बाद इसे वापस गाजीपुर जेल पहुंचा दिया गया। कस्टडी पैरोल के तहत अब्बास अंसारी दिन में अपने घर में रहेगा। जबकि अब्बास को रात में गाजीपुर जेल में रखा जायेगा। अब्बास अंसारी को 13 जून को कासगंज जेल वापस शिफ्ट किया जायेगा।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.