उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने हाइब्रिड कारों के रजिस्ट्रेशन चार्ज को किया माफ , कार खरीदना हुआ सस्ता…!

KNEWS DESK- अगर आप यूपी निवासी हैं तो ये खास खुशखबरी आपके लिए है क्योंकि अब आप कार खरीदने का प्लान बना सकते हैं दरअसल यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बड़े तोहफे का ऐलान किया है| गाड़ी खरीदने से पहले आप एक बार हाइब्रिड कार के ऑप्शन को देख सकते हैं| ये ना सिर्फ माइलेज देने में सबसे आगे रहती हैं, बल्कि अब यूपी सरकार ने इनकी खरीद को भी सस्ता कर दिया है, क्योंकि इनका रजिस्ट्रेशन चार्ज यूपी में 100% Free हो गया है|

जी हां सीएम योगी की अध्यक्षता में हाल में कैबिनेट की बैठक हुई और हाइब्रिड कारों की रजिस्ट्रेशन कार फीस को माफ करने का फैसला कर दिया गया| इससे अब यूपी में हाइब्रिड कारें 3 से 4 लाख रुपए तक सस्ती हो सकती हैं|

भारत में सरकार का जोर इलेक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने पर है| लेकिन इसके साथ बैटरी चार्जिंग या बैटरी स्वैपिंग इंफ्रास्ट्रक्चर की जरूरत होती है| इसी का सॉल्युशन है हाइब्रिड कारें जो असल में ‘जबरदस्त माइलेज’ देती हैं| इस टेक्नोलॉजी में किसी कार के इंजन के साथ एक बैटरी भी जुड़ी होती है, जो एक्स्ट्रा माइलेज देने का काम करती है| इस बैटरी को चार्ज करने का सिस्टम ही इसे खास बनाता है|

दरअसल हाइब्रिड कार में लगी इलेक्ट्रिक मोटर की बैटरी पेट्रोल से चार्ज नहीं होती, बल्कि रीजेनरेटिव एनर्जी के सिद्धांत पर काम करती है| अगर आप यूपी वाले हैं, तो बचपन में कभी ना कभी जरूर पढ़ा होगा कि ‘ऊर्जा नष्ट नहीं होती, इसे एक माध्यम से दूसरे माध्यम में परिवर्तित किया जा सकता है’| बस यही सिद्धांत हाइब्रिड कारों में भी काम करता है|

हाइब्रिड कार में पहियों के पास रीजेनरेटिव ब्रेक्स लगाए जाते हैं| जैसे ही आप ब्रेक लगाते हैं तो एक एनर्जी जेनरेट होती है और इसी काइनेटिक ऊर्जा को इलेक्ट्रिसिटी डायनमों की मदद से बैटरी में स्टोर कर लिया जाता है\ फिर जब आप कार चलाते हैं और उसे एक स्पीड लिमिट तक ले जाते हैं, तब ये ऑटोमेटिक तरीके से इलेक्ट्रिक मोटर पर शिफ्ट हो जाती है| इससे आपके फ्यूल टैंक में पड़ा पेट्रोल बचता है और आपको बढ़िया माइलेज मिलता है| अब जैसे Honda City के eHEV वर्जन को ही ले लें, इस कार में फुल टैंक पर आपको 1000 किमी तक का माइलेज मिलता है|

फैसले से मारुति का शेयर दौड़ा

उत्तर प्रदेश सरकार 10 लाख रुपये से कम कीमत वाले 4-व्हीलर्स पर 8% और 10 लाख रुपये और उससे ज्यादा कीमत वाली गाड़ियों पर 10% रोड टैक्स लेती है| योगी सरकार के इस कदम का सीधा फायदा मारुति सुजुकी को मिलता दिख रहा है| इस खबर के बाद कंपनी के शेयरों में जबरदस्त तेजी आई है|

मारुति के बाद दो मजबूत हाइब्रिड कारें- ग्रैंड विटारा और इनविक्टो है| हालांकि टोयोटा किर्लोस्कर के पास हाइराइडर और इनोवा हाईक्रॉस है, होंडा कार्स अपनी सिटी सेडान का हाइब्रिड वर्जन बेचती है|

कार खरीदने वालों के लिए गुड न्यूज, यूपी में Hybrid Vehicle के रजिस्ट्रेशन पर नहीं लगेगा टैक्स - up government announced hybrid vehicle registration fee in uttar pradesh | The Economic Times ...

मार्केट में मौजूद हैं ये हाइब्रिड कारें

देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति सुजुकी हाइब्रिड कारों की एक पूरी रेंज पेश करती है. इसमें स्विफ्ट से लेकर बलेनो, फ्रॉन्क्स, अर्टिगा, एक्सएल6, ग्रांट विटारा और सियाज जैसे मॉडल शामिल हैं|वहीं टोयोटा और होंडा के भी कुछ मॉडल इस कैटेगरी में आते हैं| हाल में हुंडई ने भी इस सेगमेंट पर ध्यान देना शुरू किया है|

बता दें कारों पर सिर्फ आरटीओ चार्जेस नहीं वसूले जाते हैं| यूपी में कई और तरह के कर कार की खरीद पर देने होते हैं| जी हां, अगर आप लोन पर कार लेते हैं तो आपको फिक्स हाइपोथेकेशन चार्ज देना होता है| इसके अलावा नंबर प्लेट चार्ज, टेंपेरेरी रजिस्ट्रेशन चार्ज, रजिस्ट्रेशन चार्ज, फास्टैग चार्ज और ग्रीन टैक्स भी देना होता है| वहीं पार्किंग इत्यादि इंफ्रास्ट्रक्चर के डेवलपमेंट के लिए सरकार कार की खरीद के समय ही एक फिक्स चार्ज वसूलती है|

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.