भगवा ध्वज हमारे आदर्श और सिद्धांतों का प्रतीक : मोहन भागवत

नागपुर : राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत ने बृहस्पतिवार को कहा कि संगठन के स्वयंसेवकों के लिए प्राचीन काल से ही भगवान हनुमान और इतिहास काल से 17वीं शताब्दी के वीर मराठा योद्धा छत्रपति शिवाजी महाराज आदर्श हैं। भागवत ने कहा कि आर.एस.एस. के संस्थापक डॉ. केशव बलिराम हैडगेवार और इसके शीर्ष नेताओं एम.एस. गोलवलकर और बालासाहेब देवरस ने स्पष्ट रूप से कहा है कि कोई व्यक्ति नहीं बल्कि भगवा ध्वज आर.एस.एस. का आदर्श है जिसका मुख्यालय नागपुर में स्थित है।

भागवत नागपुर के यशवंत स्टेडियम मैदान में स्वामी विवेकानंद की 160वीं जयंती पर बाल स्वयंसेवकों एवं अन्य लोगों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि यह भगवा झंडा हमारे सिद्धांतों का प्रतीक है। हमारे आदर्श तत्व रूपी हैं और भगवा ध्वज उस तत्व का प्रतीक है।

‘भगवा ध्वज हमारे सिद्धांतों का प्रतीक’

उन्होंने कहा, ‘यह (भगवा झंडा) हमारे सिद्धांतों का प्रतीक है।’ भागवत ने कहा, ‘अगर आप एक व्यक्ति को एक आदर्श के रूप में चाहते हैं, तो तीनों (आरएसएस प्रमुखों) ने कहा है कि प्राचीन काल से हमारे आदर्श रामभक्त भगवान हनुमान हैं और इतिहास काल से, हमारे आदर्श छत्रपति शिवाजी महाराज हैं।’