पेपर लीक के बाद राज्य लोक सेवा आयोग, पुनः परीक्षा को तैयार

के-न्यूज/ देहरादून. उत्तराखण्ड में हो रहे लगातार भर्ती परीक्षाओं की गड़बड़ी से जहां एक ओर उत्तराखण्ड का नाम बदनाम हो रहा है वहीं दूसरी ओर रोजगार के लिए कड़ी मेहनत करने वाले युवाओं को सड़कों पर उतरना पड रहा है। पहले यूकेएसएसएससी ने परीक्षा में गड़बड़ियों के अम्बार लगाये और अब राज्य की प्रशासनिक रीड़ तैयार करने वाले राज्य लोक सेवा आयोग ने भी खुद को दागदार कर दिया है। बहरहाल अब अभ्यर्थियों के भविष्य को देखते हुए आयोग ने अपनी पुरानी गलतियों से सबक लेते हुए रद्द परिक्षाओं को जल्द ही फिर से करवाने के लिए कमर कस ली है।

आयोग ने की नयी परीक्षा सूची तैयार
उत्तराखण्ड लोक सेवा आयोग ने अब भर्ती परिक्षाओं की नयी सूची तैयार कर ली है। जिसमें लेखपाल की 12 फरवरी वन आरक्षी की 9 अप्रैल साथ ही पीसीएस की मुख्य परीक्षा 23 से 26 फरवरी तक प्रस्तावित की गई है। परीक्षा में इस बार किसी भी प्रकार की गड़बड़ी न हो इसके लिए आयोग पूरी तरह से मुस्तैदी में है। आयोग के अध्यक्ष डाॅ राकेश कुमार ने कहा कि परीक्षा निर्विवाद तौर से सम्पन्न हो इसके लिए आयोग हर स्तर पर गहन जांच के दायरे में परीक्षा को संमन्न कराने को संकल्पबद्ध है। साथ ही विशेषज्ञों की टीम बनायी गयी हैे जो परीक्षा के लिए नए सिरे से प्रश्न पत्र तैयार कर रही है। अति महत्वपूर्ण अनुभागों में मोबाइल ले जाना भी प्रतिबंधित किया गया है।¬¬ सभी प्रक्रियाएं गहन जांच के दायरे में हैं। इसके अलावा आगामी परीक्षाओं के लिए आयोग आंतरिक रिपोर्ट तैयार करवा रहा है जिसके मिलने के बाद आगे की व्यवस्थाएं तय की जायेंगी।