राजधानी लखनऊ के जानकीपुरम क्षेत्र में जे.ई.ने परिवार समेत खाया जहर

यूपी की राजधानी लखनऊ में एक ही परिवार में बुधवार को दो लोगों की संदिग्ध मौत हो गई है। यह वारदात जानकीपुरम में हुई है। बताया जा रहा है कि मां, पिता और उनकी बेटी ने जहर खा लिया है।इलाज के दौरान ट्रामा में बाप और बेटी की मौत हो गई, जबकि मां का इलाज जारी है।

मौके पर पुलिस के तमाम अधिकारी मौजूद है। अभी जहर खाने की वजह साफ नहीं हुई है । पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, नलकूप विभाग में जेई के पद पर तैनात शैलेंद्र कुमार (45 वर्षीय) ने अपनी पत्नी गीता (40 वर्षीय) और बेटी प्राची (17 वर्षीय) के साथ जहर खा लिया । आनन-फानन में तीनों को मेडिकल कॉलेज के ट्रामा सेंटर में लाया गया, जहां शैलेंद्र और प्राची की मौत हो गई, जबकि गीता की हालत गंभीर है । उसको बचाने की कोशिश की जा रही है।

जानकीपुरम विस्तार इलाके में शैलेंद्र कुमार अपने परिवार के साथ रहते थे । उनके परिवार में पत्नी, एक बेटी और एक बेटा है । बेटा फिलहाल बेंगलुरु में एक स्पोर्ट्स इवेंट में हिस्सा लेने गया है । बुधवार को घर में शैलेंद्र, पत्नी गीता और बेटी प्राची के साथ थे । पुलिस ने बताया कि हमें सुबह 9.30 बजे पड़ोसियों ने तीनों के जहर खाने की सूचना दी है।

पुलिस के मुताबिक, जैसे ही हमें तीनों के जहर खाने की सूचना मिली। तो हम तुरंत घर पर पहुंचे और तीनों को ट्रामा सेंटर पहुंचाया गया। जहां बाप और बेटी को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया और मां का इलाज शुरू किया गया। मां की हालत बेहद गंभीर है और डॉक्टर उसे बचाने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। घर पर फॉरेंसिक की टीम पहुंच गई है।

जानकीपुरम विस्तार पुलिस का कहना है कि हमें अभी कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। घर की तलाशी ली जा रही है और फॉरेंसिक एक्सपर्ट को बुलाया गया। इसके साथ ही पुलिस उन पड़ोसियों से पूछताछ कर रही है, जिन्होंने तीनों को सबसे पहले देखा था। अभी जहर खाने के पीछे का कारण स्पष्ट नहीं है।