गोरखपुर: मां के शव को पांच दिन तक अगरबत्ती दिखाता रहा शराबी बेटा, शव में बदबू आने पर लोगों को लगी भनक, फिर…

गोरखपुर में सेवानिवृत्त शिक्षिका के शव को पांच दिन से जवान शराबी बेटा अगरबत्‍ती दिखाता रहा। जब मंगलवार की सुबह मोहल्ले वालों से दुर्गंध बर्दाश्त नहीं हुई, तो उन्‍होंने पुलिस को सूचना दी। जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने बेड के नीचे से 80 वर्षीय रिटायर्ड शिक्षिका के शव को बरामद कर पोस्‍टमार्टम के लिए भेज दिय। मोहल्ले वालों की मानें तो जवान बेटा नशे का आदी है। मृतका की बहू पति की मानसिक हालत ठीक नहीं होने और नशे की आदत से परेशान होकर 15 दिन पहले मायके चली गई थी। पुलिस मृत शिक्षिका के बेटे से पूछताछ कर रही है।
बता दें कि गोरखपुर के गुलरिहा थाना क्षेत्र के शिवपुर शाहबाजगंज की रहने वाली शांति देवी शहर के प्रतिष्ठित अयोध्या दास राजकीय कन्या इंटर कॉलेज में शिक्षिका के पह पर कार्यरत थी। उनके पति राम दुलारे मिश्रा कुशीनगर के बोदरवार इंटर कॉलेज में शिक्षक थे। उनकी 10 साल पहले मौत हो चुकी है। पति पत्नी ने सन 1988 में शिवपुर शाहबाजगंज में मकान बनवाया था। निखिल की हरकतों से परेशान होकर किराएदार भी घर खाली कर जा चुके हैं। निखिल माता-पिता की इकलौती संतान है। मंगलवार की सुबह मोहल्ले में भीषण बदबू आने के बाद लोगों ने गुलरिया थाने की पुलिस को सूचना दी। मोहल्ले के लोगों ने बताया कि चार-पांच दिन से शांति देवी घर के बाहर दिखाई भी नहीं दे रही है। उनका बेटा 45 वर्षीय निखिल मिश्रा नशे का आदी है। उन्होंने बताया कि वह अपनी पत्नी से मारपीट करता रहा है जिसके वजह से वे 15 दिन पहले मायके चली गई।

गोरखपुर के एसपी नॉर्थ मनोज कुमार अवस्थी ने बताया कि गुलरिहा थानाक्षेत्र के शिवपुर सहबाजगंज मोहल्ले में एक घर से तेज दुर्गंध आने की सूचना मोहल्ले वालों ने दी। वहां पहुंचने पर बेड के नीचे एक 80 वर्षीय महिला का शव पड़ा मिला। उनका बेटा निखिल मिश्रा उर्फ डब्बू जो 45 वर्ष का है वह घर में मौजूद था। बेटे ने बताया कि मां के अंतिम संस्कार के लिए पैसे नहीं थे इसी वजह से उसने मां की मौत की किसी को सूचना नहीं दी। मृतक का बेटा नशे का आदी है। उसकी पत्नी 15 दिन पहले ही बेटे को लेकर मायके जा चुकी है। पुलिस ने शव का पंचनामा कर बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। एसपी ने बताया कि पोस्टमार्टम के बाद ही यह पता चल पाएगा कि उनकी स्वाभाविक मौत हुई है या फिर उनकी मौत की वजह क्या है।

ये भी पढ़ें-औरैया: तेज रफ्तार वैन ने कार में मारी टक्कर , दरोगा समेत आधा दर्जन से अधिक लोग घायल