सीबीआई ने की बड़ी कारवाही

सीबीआई ने पटना ,कोलकाता ,हाजीपुर ,समस्तीपुर ,और सोनपुर समेत 16 जगहों पर छापेमारी कर रिश्वतखोरों के रैकेट का खुलासा किया हैं  |सीबीआई द्वारा खुलासे में रेलवे के तीन बड़े अफसरों समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया हैं | इन अफसरों के पास रिश्वत के 46.50 लाख रुपये भी बरामद किए गए | यह कारवाही रिश्वतखोरी के मामले मे की गई थी | रेलवे अफसरों के अलावा कोलकाता स्थिर एक कंपनी से जुड़े दो अन्य शख्स भी गिरफ्तार किए गए | अरेस्ट किए गए रेलवे अधिकारियो में पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य माल परिवहन प्रबंधक (cftm ) संजय कुमार के साथ समस्तीपुर के वरीय मण्डल परिचालक प्रबंधन ( dom) रूपेश कुमार और सोनपुर के वरीय मण्डल परिचालक प्रबंधन सचिन मिश्रा शामिल हैं | समस्तीपुर रेलमंडल में बड़े अधिकारी के गिरफ़्तारी के बाद वह हड़कंप मचना शुरू हो गया | सीबीआई को गुप्त सूचना मिली थी की पूर्व मध्य रेल के सोनपुर और समस्तीपुर रेलमंडल में माल लदान के दौरान डीटेंशन चार्ज से बचाने के साथ अन्य सुविधा मुहैया कराने के लिए कोलकाता की अभा  एग्रो इंडस्ट्रीज प्राइवेट लिमिटेड से पूर्व मध्य रेल हाजीपुर मुख्यालय सीएफटीएम संजय कुमार ,समस्तीपुर रेलमंडल के वरिष्ट मण्डल परिचालन प्रबंधक रूपेश कुमार , और सोनपुर रेलमंडल के वरिष्ट मण्डल परिचालक प्रबंधक सहित अन्य रेलकर्मियों के द्वारा रिश्वत के रूप में एक रकम हर महीने ली जाती हैं |एफआईआर के मुताबिक , समस्तीपुर रेलमंडल के सीनियर डीओएम ने 24 मई को 4 लाख और 27 जून को 6 लाख रुपये की रिश्वत ली थी |