सांसदों के वोट में सबसे आगे रहे ऋषि सुनक की आखिर क्या रही हार की वजह?

लिज ट्रस ब्रिटेन की नई प्रधानमंत्री बन चुकी है ट्रस को 81 हजार से ज्यादा वोट मिले। वहीं, सुनक को 60 हजार वोट से ही संतोष करना पड़ा। पूर्व वित्त मंत्री ऋषि सुनक रेस में शुरू से ही काफी आगे थे वहीं, विदेश मंत्री लिज ट्रस शुरू में टॉप दो में भी शामिल नहीं थी फिर ऐसा क्या हुआ की पूरी बाज़ी ही पलट गयी 
 
 नस्लभेद 
ऋषि सुनक मूल रूप से इंग्लैंड या ब्रिटेन के किसी देश से नहीं हैं ब्रिटेन में प्रधानमंत्री बनने के लिए ही यह दोनों ही बातें काफी अहम हैं दरअसल, इस देश के इतिहास में आज तक अंग्रेजों के अलावा किसी को प्रधानमंत्री पद नहीं मिला है। 
 
पत्नी के साथ जुड़े टैक्स विवाद
खुलासा हुआ था कि सुनक की पत्नी अक्षता ने करीब 20 मिलियन पाउंड (197 करोड़ रुपये) का टैक्स नहीं दिया था दरअसल, अक्षता के पास अपने पिता नारायण मूर्ति की कंपनी इन्फोसिस में 0.93 फीसदी हिस्सेदारी है ब्लूमबर्ग के मुताबिक, अपनी हिस्सेदारी से अक्षता सालाना करीब 11.65 करोड़ रुपये का डिविडेंड पाती हैं अक्षता पर इसी कमाई से होने वाली आय पर टैक्स न देने का आरोप लगा।
 
जॉनसन के खिलाफ जाने के आरोप 
ऋषि सुनक पर जो एक बड़ा और गंभीर आरोप लगा है, वह है वित्त मंत्री रहते हुए प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन के खिलाफ जाने का दरअसल, कंजर्वेटिव पार्टी के कार्यकर्ता बोरिस जॉनसन के इस्तीफे के पीछे सुनक को कारण मानते हैं उनका मानना है कि ऋषि सुनक ने बोरिस जॉनसन के खिलाफ सबसे पहले इस्तीफा देकर पूरी कैबिनेट में उनके खिलाफ माहौल बनाया। देखते ही देखते कई मंत्रियों ने जॉनसन पर दबाव बनाने के लिए अपने पद छोड़ दिए।