संजय राउत के घर पर ईडी की छापेमारी  

संजय राउत के घर पर ईडी की छापेमारी  

ईडी ने रविवार को शिवसेना सांसद संजय राउत के मुंबई में स्थित आवास पर छापा मारा और उनके घर की 9 घंटे तक तलाशी ली और यह पूछताछ शाम 4 बजे तक चली।  काफी लंबी पूछताछ के बाद ईडी संजय राउत को अपने दफ्तर ले गई। घर की तलाशी लेने के समय उनके घर से 11.5 लाख रुपए नकद और कुछ दस्तावेज भी मिले। संजय को पात्रा चॉल घोटाले में रविवार को गिरफ्तार किया गया। ईडी द्वारा हिरासत में लिए जाने की बात लगातार सामने आ रही थी लेकिन उनके वकील ने इन सब खबरों को गलत बताया है और  उनके वकील ने यह कहा की संजय को ना ही हिरासत में लिया गया है ना ही गिरफ्तार किया गया है  जबकि संजय को पूछताछ के बाद ईडी ने गिरफ्तार कर लिया था। जब ईडी संजय को लेकर जा रही थी तो वह बिल्कुल भी झुके नहीं और भगवा कपड़े के साथ इस मामले का पूरा विरोध किया। कल संजय राउत के घर छापेमारी हुई थी तो उनकी पार्टी के लोगों ने जमकर नारे लगाए और संजय का पूरा साथ दिया और संजय की गिरफ़्तारी पर मुंबई और काफ़ी जगह विरोध प्रदर्शन भी किया। संजय इस सब को गलत बता रहे है और उनका कहना है की ईडी शिवसेना को कमजोर करने की कोशिश कर रही है इसलिए यह गलत केस  उनके खिलाफ लगाया गया है। उनका कहना है की ना वो झुके गए ना पार्टी छोड़े गे।  संजय को पहले भी पूछताछ के लिए ले जाया जा चुका है। ईडी ने संजय की पत्नी वर्षा राउत और उनके दो सहयोगियों की 11.15 करोड़ की संमति के मामले में भी पूछताछ कर रही है।

शिवसेना सांसद संजय राउत को आज कोर्ट में पेश किया जाएगा और उनका मेडिकल टेस्ट भी करवाया गया। संजय की गिरफ़्तारी,महंगाई और जीएसटी जैसे मामले को लेकर राज्यसभा में काफी हंगामा जारी है। पार्टी का काफी विरोध प्रदर्शन देखते हुए जेजे अस्पताल और कोर्ट के बाहर 200 पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया। संजय की गिरफ़्तारी पर उनके भाई सुनील ने कहा है की यह राशि उन्हों ने शिवसेनिकों के अयोध्या जाने के लिए रखी थी। नोट के बंडल पर एकनाथ शिंदे भी लिखा था। संजय की हिरासत को लेकर काफी विरोध अभी भी जारी है।