उत्तराखंड: निकाय चुनाव को लेकर भाजपा-कांग्रेस ने शुरू की तैयारियां, किसके खाते में इस बार काशीपुर मेयर सीट

रिपोर्ट – अज़हर मलिक

काशीपुर – उत्तराखंड में काशीपुर के निकाय चुनाव में भाजपा का तिलिस्म तोड़ने के लिए कांग्रेसियों ने अपनी तैयारियां शुरू कर दी हैं और विरोधियों को धूल चटाने के लिए आपसी गुटबाजी को खत्म कर एक मुखर होती हुई दिखाई दे रही है।

कांग्रेस हो या भाजपा दोनों ही राजनीति पार्टियों की जोरों शोरों पर तैयारियां 

आपको बता दें कि उत्तराखंड में जल्दी निकाय चुनाव का बिगुल बजने वाला है जिसको लेकर राजनीति पार्टियों ने अपनी गुणा भाग करनी शुरू कर दी है और  विरोधियों को धूल चटाने के लिए सियासी बिसात बिछानी शुरू हो गई है। आगामी चुनाव को लेकर कांग्रेस हो या भाजपा दोनों ही राजनीति पार्टियों की तैयारियां जोरों शोरों पर देखी जा रही है लेकिन उत्तराखंड के काशीपुर की मेयर की सीट जीतना कांग्रेसियों के लिए लोहे के चने चबाने के बराबर हो गया है, क्योंकि कभी हाईकमान का प्रत्याशियों को लेकर गलत चयन तो कभी कांग्रेस की आपसी गुटबाजी ही कांग्रेस को शिकस्त दे देती है, लेकिन इस बार कांग्रेस की आपसी गुटबाजी खत्म  कर दी है| ऐसे में हाईकमान सही प्रत्याशी का चयन कर बार-बार जीतने का भाजपा का तिलिस्म तोड़ सकती है, ऐसे में कांग्रेसी के दावेदारों की लिस्ट फिर से लंबी होती जा रही है लेकिन मेयर प्रत्याशी के दमदार दावेदारों के कुछ ही नाम सामने आ रहे हैं।

काशीपुर की जनता के दिलों में मुकेश मल्होत्रा की एक अलग ही पहचान

कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री मुक्ता सिंह जो पूर्व में भी मेयर प्रत्याशी रही हैं| वहीं कांग्रेस के सबसे युवा नेता अर्पित मल्होत्रा जिनकी युवाओं में अच्छी पकड़ और साथ ही स्वर्गीय पिता का राजनीतिक एक्सपीरियंस अर्पित मल्होत्रा काशीपुर के पूर्व चेयरमैन मुकेश मल्होत्रा के पुत्र हैं और मुकेश मल्होत्रा प्रदेश में कांग्रेस का दिल भी कहे जाते हैं। उत्तराखंड की स्थापना होने के बाद कांग्रेस की पहचान दिलाने में सबसे अहम योगदान रहा। स्वर्गीय मुकेश मल्होत्रा को सभी राजनीतिक पार्टी के नेता अपना आदर्श भी मानते थे और काशीपुर की जनता के दिलों में मुकेश मल्होत्रा की एक अलग ही अपनी जगह थी।

विधानसभा चुनाव जिताने में अलका पाल की अहम भूमिका

अलका पाल कांग्रेस की वरिष्ठ नेत्री साथ ही स्टारक प्रचारक के रूप में हाईकमान अलका पाल को बुलाकर चुनाव की जिम्मेदारी भी दे सकते है। हाल ही में कर्नाटक में हुए विधानसभा चुनाव जिताने में अलका पाल की अहम भूमिका रही। पार्टी के साथ-साथ काशीपुर में भी अलका पाल की घर-घर एक अच्छी पकड़ देखी जाती है।

अजीज कुरैशी कांग्रेस के लिए एक दमदार प्रत्याशी

अजीज कुरैशी काशीपुर कांग्रेस में दिग्गज और दबंग नेता माने जाने वाले अजीज कुरैशी कांग्रेस के लिए एक दमदार प्रत्याशी हो सकते हैं क्योंकि मुस्लिम समुदाय के लोग अजीज कुरैशी को ज्यादा पसंद करते हैं इसके साथ-साथ अलग समुदाय में भी अजीज कुरैशी की अच्छी पकड़ देखी जाती है हालांकि अजीज कुरैशी कुछ साल पहले समाजवादी पार्टी का दामन छोड़ कांग्रेस का हाथ थामा है।

अरुण चौहान की पकड़ पार्टी के शीर्ष नेता से लेकर जमीनी स्तर पर 

अरुण चौहान कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में से एक हैं, जिनका किसी भी विवाद से कोई नाता नहीं रहा हालांकि अरुण चौहान की पकड़ पार्टी के शीर्ष नेता से लेकर जमीनी स्तर पर भी है|

काशीपुर की मेयर सीट किस कोटे में

अपने विरोधियों को धूल चटाने के लिए सभी राजनीतिक पार्टियों ने अपनी चुनावी पिच तैयार करनी शुरू कर दी है। भाजपा अपना तिलिस्म बरकरार रखना चाहती है तो कांग्रेस उस तिलिस्म को तोड़ने के लिए नए – नए समीकरण तैयार करती हुई दिखाई दे रही है| बरहाल पहले तो यह देखने वाली बात होगी के काशीपुर की मेयर सीट किस कोटे में आती है। सही दावेदार का चयन हाईकमान कर पाता है या नहीं, या तो आने वाला समय ही बतायेगा|

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.