चेहरे पर नजर आने लगा है बुढ़ापा, तो इन चीजों का करें सेवन

बढ़ती उम्र के साथ साथ हमारी स्किन पर इसका इसर दिखने लगता है। स्किन पर दिखने वाली झुर्रियां, फाइन लाइन्स  इशारा करती हैं कि आप धीरे-धीरे बूढ़े हो रहे हैं। हालांकि उम्र बढ़ना एक नेचुरल प्रोसेस है जिसे आप रोक नहीं सकते हैं, लेकिन कुछ चीजों की मदद से स्किन पर दिखने वाले एजिंग साइन्स को धीमा कर सकते हैं। वहीं  स्किन पर दिखने वाली झुर्रियों की समस्या से छुटकारा पाने के लिए केराटिन को काफी जरूरी माना जाता है। हमारी स्किन, बाल, और नाखूनों में केराटिन पाया जाता है. यह एक तरह का प्रोटीन होता है जो स्किन के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है और किसी भी तरह के इंफेक्शन को शरीर में प्रवेश करने से रोकता है। आज हम आपको उन चीजों के सेवन के बारे में बताएगें  जिनमें केराटिन की मात्रा काफी ज्यादा होती है। इन सभी चीजों का रोजाना सेवन करने से झुर्रियां और फाइन लाइस कम होती हैं। साथ ही इस सभी चीजों के सेवन से आपका एजिंग प्रोसेस स्लो होता है।

सूरजमुखी के बीज

सूरजमुखी के बीज काफी स्वादिष्ट और पौष्टिक होते हैं जो केराटिन के उत्पादन को बढ़ाते हैं। यह बीज बालों को मजबूत और कडीशन करते हैं। सूरजमुखी के बीजों में पैंटोथेनिक एसिड, सेलेनियम, कॉपर और विटामिन ई होता है। इन बीजों का सेवन आप खाने या भी ड्रिंक्स में डालकर कर सकते हैं।

अंडे

बॉडी में केराटिन के उत्पादन के लिए अंडे खाना एक नेचुरल तरीका है। केराटिन के उत्पादन के लिए बायोटिन की खास जरूरत होती है। ऐसे में अंडा बायोटिन का एक अच्छा सोर्स है। जिससे केराटिन का निर्माण होता है। एक बड़े अंडे में  विटामिन ए और बी12, राइबोफ्लेविन, सेलेनियम जैसे घटक भी पाए जाते हैं।

लहसुन

लहसुन में एन-एसिटाइलसिस्टीन नाम का एक प्लांट बेस्ड एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो बालों की कोशिकाओं को सूरज के डैमेज से बचाता है और हेल्दी बालों के विकास को प्रोत्साहित करता है। केराटिन में एल-सिस्टीन नाम का एक अमीनो एसिड मौजूद होता है।  इसका निर्माण तब होता है जब इसे निगला जाता है। इसके अलावा, लहसुन में विटामिन सी, बी6 , मैंगनीज और कई तरह के मिनरल्स पाए जाते हैं।

प्याज

प्याज का सेवन करने से शरीर में केराटिन का उत्पादन बढ़ता है। इसके अलावा, प्याज में फोलेट होता है, जो बालों के रोम छिद्रों को मजबूत करने के लिए एक महत्वपूर्ण विटामिन है।

हरी पत्तेदार सब्जियां

हरी पत्तेदार सब्जियां जैसे पालक, केल, बंदगोभी और लेट्स केराटिन से भरपूर होते हैं। 1 कप पकी हुई हरी पत्तेदार सब्जियों में 15.3 मिलीग्राम केराटिन पाया जाता है। इसके अलावा ये हरी पत्तेदार सब्जियां प्रोटीन, विटामिन,मिनरल्स, आयरन का भी अच्छा सोर्स मानी जाती हैं।

शकरकंद

शकरकंद में कई तरह के पोषक तत्व पाए जाते हैं, जिस कारण इसे सुपरफूड कहा जाता है। इसमें बीटा-कैरोटीन, एक प्रकार का प्रोविटामिन ए शामिल है। यह केराटिन बनाता है और जब शरीर इस केराटिन का इस्तेमाल कर लेता है तो यह विटामिन ए में बदल जाता है।

ये भी पढ़ें- ओलंपिक: राष्ट्रीय निशानेबाजी चयन ट्रायल में शामिल होगे विजय और संजीव, मिलेगा ओलंपिक का कोटा