खेल मंत्रालय के साथ पहलवानों की बैठक खत्म.. बृजभूषण शरण सिंह का इस्तीफा लेकर रहेगे- बजरंग पूनिया

के-न्यूज/ दिल्ली, बुधवार से पहवान खिलाड़ी कुश्ती फेडरेशन के खिलाफ दिल्ली के जंतर मंतर में प्रदर्शन कर रहे है. प्रदर्शन के दौरान कुश्ती खिलाड़ियों ने फेडरेशन के अध्यक्ष बृजभूषण पर कई खंभीर आरोप लगाए है.

दिल्ली के जंतर मंतर में शुक्रवार को कुश्ती के ओलंपियन प्लेयर बजरंग पुनिया, सरिता मोर, साक्षी मलिक और विनेश फोगाट ने फेडरेशन और अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर काफी गंभीर आरोप लगाए है. जिसके बाद खेल मंत्रालय के सचिव ने खिलाड़ियों के साथ बैठक की. सचिव ने बैठक में खिलाड़ियों से उनकी समस्याओं के बारे बात की. खेल सचिव ने खिलाड़ियों को कर्रवाई का आश्वासन दिया है.

इस्तीफा लेकर रहेंगे, जरूरत पड़ी तो पुलिस का सहारा भी लेंगे- खिलाड़ी

बैठक खत्म होने के बाद खिलाड़ियों ने मीडिया से बात की. मीडिया से बात करते हुए खिलाड़ियों ने कहा बृजभूषण के इस्तीफे के बिना हम नही मानेंगे. कुछ भी हो जाए हमें अध्यक्ष ब्रजभूषण शरण का इस्तीफा चाहिए. अगर फेडरेशन कर्रवाई नहीं करता है, तो हम पुलिस का सहारा भी लेंगे. साथ ही बृजभूषण सिंह को सजा दिलाएंगे.

बृजभूषण सिंह पर खिलाड़ियों ने लगाए आरोप

खिलाड़ियों ने बृजभूषण सिंह से कई तरह के आरोप लगाए है. बजरंग पुनिया ने बताया अध्यक्ष हमारी किसी भी तरह की कोई बात सुनते नही है, लगातार खिलाड़ियों को टॉर्चर किया जाता है. विनेश फोगाट ने बताया जब से बृजभूषण अध्यक्ष बने तब से वो खिलाड़ियों के अभद्र तरीके से बात करते है. साथ ही बहुत सी महिला खिलाड़ियों के साथ यौन शोषण भी किया जाता है. उन्होंने बताया महिलाओं खिलाड़ियों ने अध्यक्ष से ना जाने कितनी बार कहा कि लखनऊ में कैंप ना लगाया जाए. लेकिन फेडरेशन के किसी अधिकारी ने हमारी बात नही सुनी.

अध्यक्ष नही हटेंगे तो कोई भी खिलाड़ी नेशनल नहीं खेलेगा

प्रदर्शन के दौरान खिलाड़ियों ने ये ऐलान कर दिया है कि जब तक खेल मंत्रालय और फेडरेशन अध्यक्ष पद से बृजभूषण को नही हटा देता है. तब तक कोई भी खिलाड़ी नेशनल मैच नहीं खेलेगा. हम खेल मंत्री से मिलकर जल्द से जल्द इस मामले पर कर्रवाई चाहते है. जब तक बृजभूषण को हटाया नही जाएंगा. तब तक हम अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे और कोई भी खिलाड़ी यहां से हटेगा नहीं.

 

खिलाड़ियों ने की राजनेताओं से दूर रहने की अपील

प्रदर्शन के दौरान वामपंथी नेता वृंदा करात मंच के ऊपर पहुंच गई. जिसके बाद इनको खिलाड़ियों ने मंच से नीचे उतार दिया. बजरंग पुनिया ने सभी राजनेताओं से अपील की कोई भी नेता इस प्रदर्शन में शामिल ना हो. ये खिलाड़ियों का प्रदर्शन है. हम देश के लिए लड़ सकते है. तो हम अपने लिए भी लड़ सकते है. हमें किसी प्रकार कोई भी राजनीतिक मदद नही चाहिए.