मध्य प्रदेश: इंदौर में बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पांच लोकसभा सीटों की तैयारियों की समीक्षा की, कहा- रैली-जुलूस से कुछ नहीं होगा,जमीनी स्तर पर उतरें

मध्य प्रदेश- भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने पश्चिमी मध्य प्रदेश की पांच सीटों पर लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी की तैयारियों की समीक्षा की। इस इलाके में आदिवासी और किसान मतदाता निर्णायक भूमिका निभाते हैं। इंदौर में पार्टी की बैठक में नड्डा ने इंदौर, धार, झाबुआ-रतलाम, खंडवा और खरगोन सीट की चुनावी तैयारियों की समीक्षा की।

सीएम मोहन यादव ने बीजेपी अध्यक्ष से की मुलाकात

लगभग दो घंटे तक चली बैठक में राज्य बीजेपी महासचिव हितानंद शर्मा और मध्य प्रदेश के उपमुख्यमंत्री और बीजेपी के ‘क्लस्टर प्रभारी’ जगदीश देवड़ा सहित लगभग 150 पदाधिकारी उपस्थित थे। बैठक के बाद मुख्यमंत्री मोहन यादव ने भी बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलाकात की।

‘रैली-जुलूस से कुछ नहीं होगा,जमीनी स्तर पर उतरें’

राज्य के कैबिनेट मंत्री विजय शाह ने कहा कि नड्डा ने हमसे प्रचंड बहुमत से चुनाव जीतने के लिए अपनी पूरी ताकत से आगे आने को कहा। विजय शाह ने कहा कि क्लस्टर बैठक में बीजेपी नेताओं को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने यह भी बताया कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के काम को मतदाताओं के बीच कैसे ले जाना है और चुनाव तैयारियों से जुड़ी कमियों को कैसे दूर करना है। राज्य के एक अन्य कैबिनेट मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि बैठक में मतदाताओं और सरकारी योजनाओं के लाभार्थियों से सीधा संपर्क बढ़ाने पर विशेष जोर दिया गया। विजयवर्गीय ने कहा कि बीजेपी अध्यक्ष ने उनसे कहा कि कार्यकर्ताओं को जनता के बीच जाना चाहिए और चर्चा करनी चाहिए कि कौन सी पार्टी देश के हित में है। केवल रैलियां और जुलूस (चुनाव के दौरान) आयोजित करना पर्याप्त नहीं है। बीजेपी अध्यक्ष के हवाले से कहा गया कि मतदाताओं से सीधा संपर्क चुनाव के नतीजे बदल देता है।

बता दें कि 2019 में बीजेपी ने इंदौर, धार, झाबुआ-रतलाम, खंडवा और खरगोन सीटें जीती थीं। सभी पांच सीटों पर 13 मई को मतदान होगा। इससे पहले जेपी नड्डा ने दिन में महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन भी किए थे।

ये भी पढ़ें-   लोकसभा चुनाव 2024: पीएम मोदी आज बिहार में एनडीए के लोकसभा चुनाव अभियान की करेंगे शुरुआत, जमुई में रैली को करेंगे संबोधित

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.