कुश्ती फेडरेशन से नाराज होकर खिलाड़ियों ने खोला मोर्चा, जंतर-मंतर में प्रदर्शन

के-न्यूज/दिल्ली, भारतीय कुश्ती फेडरेशन के अध्यक्ष ब्रजभूषण शरण के खिलाफ खिलाड़ियों ने मोर्चा खोल दिया है. सभी खिलाड़ी एक साथ ब्रजभूषण के खिलाफ दिल्ली के जंतर-मंतर में प्रदर्शन कर रहे है. इन खिलाड़ियों में ओलंपियन खिलाड़ी बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक, विनेश फोगाट और सरिता मोर समेत कई खिलाड़ी शामिल हैं.

भारतीय कुश्ती फेडरेशन के खिलाफ कुश्ती के दिग्गज खिलाड़ी जंतर-मंतर में प्रदर्शन कर रहे है. इन खिलाड़ियों में ओलंपियन प्लेयर बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, विनेश फोगाट और सरिता मोर समेत कुश्ती के कई खिलाड़ी मौजूद हैं. खिलाड़ियों के ट्विट से जो जानकारी मिली जानकारी के अनुसार सभी खिलाड़ी कुश्ती संघ के अध्यक्ष ब्रजभूषण शरण के खिलाफ हैं. जंतर-मंतर में बैठ खिलाड़ियों से मिलने कुश्ती फेडरेशन के लोग पहुंच रहे हैं. मीडिया से बात करते हुए बजरंग पुनिया ने बताया कि हम सभी खिलाड़ी यहां से तब नही हटेगे जब तक हमको पूरी तरह से इंसाफ नही मिल जाता है. उन्होंने बताया कि ये लड़ाई कुश्ती फेडरेशन के खिलाफ है. फेडरेशन हमारे लिए समय-समय पर समस्याएं खड़ी कर देता. वहीं विनेश फोगाट ने कहा कि हमारी मजबूरी है कि हमें यहां आकर धरना देना पड़ रहा है. हम लोगों ने आपस में बातचीत की थी, उसके बाद ही इसको लेकर फैसला लिया. , ये प्लान तब बना, जब हम इससे दुखी हो गए. जितने भी रेसलर हैं, सभी को दिक्कत हो रही है. इन समस्याओं को फेडरेशन को भी बताया गया है, लेकिन इन समस्याओं को हल नही किया गया.

बजरंग पुनिया ने किया ट्विट

कुश्ती के खिलाड़ी लगातार ट्विटर में #BoycottWrestlingPresident को ट्रेड करा रहे है. बजरंग पुनिया ने ट्विट कर लिखा “खिलाड़ी पूरी मेदनत कर के देश को मेडल दिलाता हैं. लेकिन फेडरेशन ने हमें नीचा दिखाने के अलावा कुछ नहीं किया. मनचाहे क़ायदे क़ानून लगा कर खिलाड़ियों को प्रताड़ित किया जा रहा है.”

सरिता मोर और विनेश फोगाट ने भी किया ट्विट

ट्विटर में सरिता मोर में लिखा खिलाड़ी “आत्मसम्मान चाहता हैऔर पूरी शिद्दत के साथ ओलंपिक और बड़े खेलो के लिए तैयारी करता है लेकिन अगर फेडरेशन उसका साथ ना दे मनोबल टूट जाता है लेकिनअब हम नही झुकेंगे अपने अधिकारों के लिए लड़ेंगे.” विनेश फोगाट ने भी ट्विटर पर ट्विट कर लिखा “खिलाड़ी आत्मसम्मान चाहता है और पूरी शिद्दत के साथ ओलंपिक और बड़े खेलो के लिए तैयारी करता है लेकिन अगर फेडरेशन उसका साथ ना दे मनोबल टूट जाता है।लेकिन अब हम नही झुकेंगे। अपने अधिकारों के लिए लड़ेंगे।“

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.