श्रद्धा मर्डर केस: पुलिस से हाथ लगी आफ़ताब और श्रद्धा के झगड़े की ऑडियो क्लिप, पहुंचाएगी फांसी के फंदे तक

नई दिल्ली,  अपनी लिव इन पार्टनर श्रद्धा वाकर की गला घोंटकर हत्या करने और फिर उसके शव के टुकड़े-टुकड़े करने वाले आफताब पूनावाला को फांसी के फंदे तक पहुँचने से अब कोई रोक नहीं सकता. आपको बता दें कि पूनावाला के खिलाफ पुलिस को एक ऐसा अहम सबूत मिला है जो ताबूत में आखिरी कील का काम कर सकता है. वो सबूत है एक ऑडियो क्लिप जिसे दिल्ली पुलिस काफी अहम मान रही है।

आफताब ने हत्या से पहले श्रद्धा के साथ झगड़ा किया था और ये ऑडियो क्लिप उसी घटना की है। ऑडियो की सत्यता की जांच करने के लिए सीबीआई की CFSL टीम ने आफताब का वॉयस सैंपल लिया है। इस सैंपल का मैच उस ऑडियो क्लिप से कराया जाएगा। अगर आवाज मैच करती है तो पुलिस को हत्या का मोटिव साबित करने में मदद मिलेगी। मामले की जांच कर रही दिल्ली पुलिस को आफताब का एक पुराना वीडियो भी मिला है। यह वीडियो मुंबई का है। पुलिस ने आफताब का फेस रिकॉगनाईजेशन टेस्ट कराया है ताकि यह साबित हो सके कि वीडियो में दिख रहा व्यक्ति आफताब ही है।

आपको बता दें कि आफताब ने 18 मई को गला घोंटकर श्रद्धा की हत्या की थी। इसके बाद उसने शव के आरी से 35 टुकड़े कर दिए थे और सभी टुकड़ों को दिल्ली के महरौली के जंगल में ठिकाने लगा दिया था।

श्रद्धा के पिता द्वारा बेटी के लापता होने संबंधी रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद पुलिस ने आफताब को हिरासत में लिया था। पूछताछ के दौरान आफताब ने स्वीकार कर लिया था कि उसने श्रद्धा की हत्या की। पुलिस ने उसे 12 नवंबर को गिरफ्तार किया था। आफताब वर्तमान में न्यायिक हिरासत में दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद है।

आफताब की निशानदेही पर पुलिस ने महरौली के जंगल से हड्डियां बरामद की थी। हड्डियां श्रद्धा की हैं या नहीं, इसकी जांच के लिए पुलिस ने डीएनए टेस्ट कराया था। इसके लिए श्रद्धा के पिता के डीएनए और हड्डियों से निकाले गए डीएनए का मैच कराया गया था। डीएनए मैच कर गया है। इसकी रिपोर्ट पुलिस को मिल गई है। पुलिस ने आफताब का पॉलीग्राफ और नार्को टेस्ट भी कराया है।