कौशाम्बी जिले में ग्रामीणों ने किया मतदान बहिष्कार, रेलवे पर ‘पुल नहीं तो वोट नहीं’ का नारा लगा किया प्रदर्शन

रिपोर्ट – अनिरुद्ध पाण्डेय 

उत्तर प्रदेश – यूपी के कौशाम्बी जिले में लोकसभा चुनाव के दौरान जनप्रतिनिधियों की उदासीनता को लेकर नाराजगी जताने वाले ग्रामीणों की संख्या बढ़ती जा रही है, विकास और मूलभूत समस्याओं के मुद्दे को लेकर ग्रामीणों ने लोकसभा चुनाव के दौरान ही अपनी समस्याओं से मुक्ति पाने का उचित समय मानकर मतदान का बहिष्कार कर रहे है।

जनसमस्याओं को लेकर मतदान करने से किया इंकार

बता दें कि ताजा मामला सिराथू तहसील क्षेत्र के हिसामपुर माढ़ो गांव का है जहां के ग्रामीणों ने जनसमस्याओं को लेकर लोकसभा चुनाव में मतदान करने से इंकार कर दिया है| ग्रामीणों ने रास्ते को लेकर रेलवे पर पुल नहीं तो वोट नहीं का नारा लगाकर विरोध प्रदर्शन किया है| ग्रामीणों का कहना है कि हमारे गांव में ग्रामीण और स्कूली बच्चे रेलवे लाइन को पार कर दूसरे तरफ जाते है, तब अपने खेत और स्कूल जा पाते है, जिससे आए दिन खतरा बना रहता है, वहीं कई लोग काल के गाल में भी समा चुके हैं |

नेताओं का तो सिर्फ वोट से मतलब

आक्रोशित ग्रामीणों ने कहा विधायक और सांसद यहां वोट मांगने आते है, ग्रामीणों की समस्या को देखने नहीं आते हैं| नेताओं का तो सिर्फ वोट से मतलब होता है| जनता कैसे जी रही है उससे कोई मतलब नहीं। ग्रामीणों ने बताया कि सरकार और प्रशासन को रास्ते के लिए रेलवे पर अन्दर पास अथवा ओवरब्रिज बनवाना पड़ेगा, जब तक रास्ते का मामला हल नहीं होगा हम लोग मतदान का बहिष्कार करेंगे।

About Post Author

Leave a Reply

Your email address will not be published.