उत्तराखंड: दोबारा आयोजित होगी लेखपाल भर्ती परीक्षा, नहीं देना होगा कोई शुल्क

देहरादून:  उत्तराखंड लोक सेवा आयोग द्वारा कराई गई पटवारी लेखपाल लिखित परीक्षा में पर्चा लीक होने का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। हल्द्वानी पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पटवारी भर्ती परीक्षा लीक मामले में राज्य सरकार पर बड़ा हमला बोलते हुए धामी सरकार को लीक एक्सपर्ट सरकार तक कह दिया  हरीश रावत का कहना है कि भर्ती परीक्षा को लीक सरकार के संरक्षण में किया जा रहा है, क्योंकि जब UKSSSC भर्ती घोटाले में हाकम सिंह का नाम आया था उस समय भी कांग्रेस ने हाकम सिंह को संरक्षण देने वाले लोगों पर कार्रवाई करने की बात कही थी, लेकिन सरकार ने उसे अनसुना कर दिया और आज उसी का परिणाम पटवारी भर्ती परीक्षा का लीक होना है। उन्होंने कहा कि सत्ता से जुड़े लोग इसमें शामिल हैं जिनकी जड़ें काफी गहरी हैं ऐसे में उन्होंने कहा की भर्ती परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों से मैं खुद माफी मांगता हूं क्योंकि राज्य की सरकार मैं बैठे लोग युवाओं से माफी तो नहीं मांगेंगे। उन्होंने कहा कि लगातार भर्तियों के पेपर लीक होना परीक्षाओं की तैयारी करने वाले युवाओं और हम सब के लिए चिंता का विषय है।

पेपर लीक का मामला सामने आने के बाद अब कांग्रेस प्रदेश की भाजपा सरकार पर हमलावर हो गई है। अल्मोड़ा में आज कांग्रेसियों ने चौघानपाटा में गांधी पार्क के सामने प्रदेश सरकार का पुतला दहन किया और इस दौरान सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर कड़ा आक्रोश जताया। इस दौरान पूर्व राज्यसभा सांसद व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता प्रदीप टम्टा ने मुख्यमंत्री से इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि यूके ट्रिपल एससी के समय भी कांग्रेस व राज्य के बेरोजगार युवाओं ने भर्ती घोटाले की सीबीआई जांच की मांग की थी। लेकिन प्रदेश की धामी सरकार ने इस मांग को अनदेखा किया। उन्होंने कहा कि जिस संवैधानिक संस्था उत्तराखंड लोक सेवा आयोग से पटवारी लेखपाल की जिम्मेदारी सौपी थी। उसी संस्था के अधिकारी के मिलीभगत से पेपर बेच कर राज्य के लाखों नौजवानों के साथ विश्वासघात किया गया। कांग्रेस ने हाईकोर्ट के सिटिंग जज के दिशा निर्देशन में यूके ट्रिपल एससी व पटवारी लेखपाल भर्ती मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की है।

उत्तराखंड लोक सेवा आयोग द्वारा विगत 8 जनवरी को आयोजित पटवारी/ लेखपाल भर्ती का पेपर लीक होने के मामले में शनिवार को कॉंग्रेस कार्यक्रताओं ने कर्णप्रयाग में जुलूस निकालकर विरोध प्रदर्शन किया और लोक सेवा आयोग और प्रदेश सरकार का पुतला फूंका। कांग्रेस जिलाध्यक्ष मुकेश नेगी के नेतृत्व में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने सिमली रोड़ से कर्णप्रयाग मुख्य बाजार तक जूलूस निकाला। मुख्य बाजार में प्रदेश सरकार और लोक सेवा आयोग का पुतला फूंकते हुए कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कहा कि प्रदेश की वर्तमान सरकार में एक के बाद एक पेपर लीक हो रहे है। भाजपा की सरकार ने प्रदेश के युवाओ का भविष्य बर्बाद कर दिया है। इससे पूर्व ukssc में तमाम भर्तियों के पेपर लीक हुई थे जिसमें सरकार द्वारा युवाओ को भरोसा दिया गया कि अब आगे की भर्तियां ukpsc कराएगी। लेकिन फिर भी पेपर लीक होने का सिलसिला रुक नही रहा। जिससे प्रतियोगिता परीक्षा की तैयारी कर रहे युवा हतास हो गए है। उन्होंने पटवारी भर्ती की सीबीआई जांच करने की मांग की है।