फिल्म और गानों के माध्यम से सनातन धर्म का अपमान रोकने के लिए धर्म सेंसर बोर्ड की होगी स्थापना: शंकराचार्य

देहरादून, बॉलीवुड फिल्मों में सनातन धर्म का अपमान लगातार बढ़ रहा है. अभी हाल ही में पठान फिल्म के गाने को लेकर पूरे देश में बवाल मच गया था .सेंसर बोर्ड को लेकर संत समाज द्वारा कई बार आपत्ति भी दर्ज कराई गई थी  कि सेंसर बोर्ड सनातन धर्म का अपमान करने वाली फिल्म और गानों को अनुमति क्यों देता है. अब सनातन धर्म का पालन करने वाली फिल्म और गानों पर रोक लगाने के लिए ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य अविमुक्तेश्वरानंद द्वारा धर्म सेंसर बोर्ड की स्थापना की जा रही है, जो फिल्मों और गानों के माध्यम से होने वाले सनातन धर्म के अपमान को रोकने का कार्य करेगा.

ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने सेंसर बोर्ड पर जमकर हमला बोला है. उन्होंने कहा है कि सरकार ने फिल्मों में अश्लीलता और अपराध को रोकने के लिए सेंसर बोर्ड की स्थापना की थी लेकिन सेंसर बोर्ड इसमें कामयाब नहीं हुआ इसीलिए अब एक धर्म सेंसर बोर्ड की जरूरत है.  जल्दी 11 सदस्यीय बोर्ड पूरी तरह से हरकत में आ जाएगा. इस बोर्ड में इतिहासविद धर्म क्षेत्र से जुड़े लोग और कई हस्तियां शामिल होंगी जिससे कि समाज में गलत सामग्री ना परोसी जा सके.