दिल्ली में मंथन ,देवभूमि में चिंतन !

के-न्यूज/उत्तराखंड, दिल्ली से देवभूमि उत्तराखंड तक सभी राजनीतिक पार्टियां आगामी 2024 के चुनाव की तैयारियों में जोरों शोरों से जुट गई है एक तरफ भारतीय जनता पार्टी ने 9 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव की तैयारी शुरू कर दी जिसमें दिल्ली में भाजपा की दो दिवसीय राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक की गई खुद स्वयं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी समेत उत्तराखंड भाजपा के 11 दिग्गज नेता इस बैठक में शामिल हुए पार्टी सूत्रों के मुताबिक राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में नेतृत्व पिछले 3 महीने के सांगठनिक कार्यक्रमों की समीक्षा और साथ ही पदाधिकारियों के प्रवास के बारे में भी जानकारी संगठन ने ली ,वही 2024 के लोकसभा चुनाव को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के रोड शो और बीजेपी की बैठक मायने रखती है वहीं भाजपा 2024 की रणनीति बनाने जा रही है जिसके लिए बीजेपी का हर बड़ा नेता दिल्ली पहुंचा हुआ है वही जब बीजेपी की तैयारी जोरों शोरों पर है तो कांग्रेसी भी भला कैसे पीछे रह सकती है कांग्रेस का दावा हे पार्टी ने भी आगामी 2024 से लेकर 27 के रोड मैप पर काम करना शुरू कर दिया है अब तक उत्तराखंड में राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा का कोई खास असर देखने को तो भले ही नहीं मिला लेकिन इसके चलते अब कांग्रेस उत्तराखंड में ऑक्सीजन देने के लिए नया अभियान शुरू करने जा रही है जिसमें प्रियंका गांधी की अगुवाई में उत्तराखंड में हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा का 26 जनवरी से शुभारंभ किया जाएगा भले ही तमाम पार्टियां चुनाव को लेकर तैयारियों में जुटी है धरातल पर जनता किस के कामों को लेकर सराहियेगी  यह बर हाल देखना होगा चर्चा आज इसी पर दिल्ली में मंथन देवभूमि में चिंतन

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष का मानना है कि अग्रिम 2024 की तैयारियां लगातार पार्टी की तरफ से की जा रही है वहीं हाथ से हाथ जोड़ो यात्रा को लेकर एक बड़ी अहम बैठक आज बुलाई गई है जिसमें कांग्रेस के शीर्ष नेता पर्यवेक्षक के तौर पर लल्लू सिंह और प्रभारी देवेंद्र यादव हाथ से हाथ जोड़ यात्रा के लिए ऑफिशल पहली बैठक करने जा रहे हैं जिसमें 2024 की तैयारियों के साथ-साथ प्रदेश की जन समस्याओं और सरकार की नाकामियों को भी जनता के सामने पेश किया जाएगा
दिल्ली में हो रही राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में भाजपा के तमाम शीर्ष नेता वहां मौजूद है तो वही भाजपा नेताओ का मानना है की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रदेश के कार्य रूप का चिंतन लगातार हो रहा है साथ ही 2024 में पूरे देश भर में होने वाले चुनाव को लेकर भी तैयारी भाजपा की तरफ से की जा रही है साथ ही अगले 6 माह तक प्रदेश के अंदर पार्टी संगठन की तरफ से किए जाने वाले कामों को लेकर के भी रोड मैप तैयार किया जा रहा है
प्रदेश में होने जा रहे 2024 में निकाय चुनाव को लेकर आम आदमी पार्टी का पूरा फोकस निकाय चुनाव को लेकर बना हुआ है वहीं आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता का मानना है कांग्रेस हो  या भाजपा दोनों ने ही प्रदेश के लिए कोई काम अभी तक नहीं किया चाहे यूपी ट्रिपल एससी, मामला हो या अंकिता भंडारी हत्याकांड को लेकर, लगातार घोटालों की वजह से पूरे प्रदेश की जनता ने अब आगे की तैयारी कर ली है इसलिए आम आदमी पार्टी सबसे पहले जनता के बीच निकाय चुनाव को लेकर जाएगी उसके बाद लोकसभा के चुनाव के बारे में सोचेगी
अब तक उत्तराखंड में भाजपा की जीत का रिजल्ट कार्ड दिखा जाए तो प्रदेश में लगातार भाजपा की सरकार होना और साथ ही लगातार प्रधानमंत्री का देवभूमि की जनता की अपेक्षा पर खरा उतरना भाजपा की जीत का सबसे बड़ा मंत्र रहा है लेकिन वही प्रदेश में सबसे बड़ा विपक्षी दल कांग्रेस को कहीं ना कहीं लगातार हार का सामना करना पड़ रहा है जिसकी वजह आपसी एकजुटता ना होना भी है सवाल अब यह उठता है कि भले ही यह दोनों राजनीतिक दल आगामी 2024 की रणनीति तय कर रहे हो भले ही दिल्ली में भाजपा के शीर्ष नेताओं का चिंतन मंथन जारी हो या वहीं कांग्रेस पार्टी के हाथ को कितना जनता का साथ मिल पाता है ये आने वाला भविष्य ही सही तय करेगा देहरादून से राजेश वर्मा की रिपोर्ट।

Leave a Reply

Your email address will not be published.