मंदी के डर ने टेक कंपनियों को डराया, कई लोगों को खोनी पड़ रही है नौकरियां

के-न्यूज, मंदी आने की आशंका तेजी से पुरे विश्व को डरा रही है. इस मंदी के डर से गूगल. फेसबुक जैसी बड़ी और मजबूत कंपनियां भी अपने कर्मचारियों की छंटनी कर रही है. जबकि ये कंपनियां कोरोना काल में काफी मजबूती से खड़ी दिखाई दे रही थी.

कोरोना काल के बाद अब दुनिया में मंदी  का डर मडराने लगा है. जिसका असर हमें कई कंपनियों में देखने को मिल रहा है. साल की शुरूआत में सबसे पहले फेसबुक ने अपने कई कर्मियों की छटनी कर दी. ये सिर्फ हमें फेसबुक में नही बल्कि कई कंपनियों में देखने को मिला है. हाल में Swiggy जैसे सक्सेफुल स्टार्टअप ने अपनी कंपनी में कर्मियों की छटनी को लेकर ऐलान किया है. इसका कारण Swiggy ज्यादा भर्ती को बता रहा है. लेकिन कही ना कही ये विश्व में आने वाली मंदी का इशारा है.

कोरोना काल में भी मजबूती से खड़ी थी ये कंपनियां

कोरोना काल में जब पूरे विश्व में सभी तरह की आर्थिक गतिविधियां थम गई थी। तभी टेक कंपनियां बड़ी मजबूती के साथ खड़ी दिखाई दे रही थी. जहां एक ओर दूसरी कंपनियां अपने कर्मी को नौकरी से बाहर निकाल रहे थे या कर्मियों की सैलरी में कटौती कर रहे थे. तब ये कंपनियां अपने कर्मचारियों के साथ मजबूती से खड़ी थी. उन्हें अपने किसी कर्मी को नौकरी से नही निकाला था. लेकिन अब मंदी के डर ये सारी कंपनियां भी बड़ी संख्या में अपने यहां छटनी कर रही है.

पिछले कितने लोगों ने गंवाई थी नौकरी?

ब्लूमबर्ग की एक रिपोर्ट के अनुसार, पिछले साल करीब 1,00,000 लोगों ने अपनी नौकरी गंवाई थी और 2023 में भी ये सिलसिला फिलहाल थमता हुआ नजर नहीं आ रहा है. उद्योग जगत में नौकरी पर नजर रखने वाली वेबसाइट layoffs.fyi के अनुसार, दो दर्जन से अधिक अमेरिकी टेक कंपनियों ने कहा है कि अपने कर्मचारियों की संख्या में 10 फीसदी या उससे ज्यादा की छटनी करेंगी.

आर्थिक मंदी का खौफ

जानकारों द्वारा इस छटनी की सबसे बड़ी वजह आर्थिक मंदी के खौफ के बताया जा रहा है. कंपनियां लगातार लोगों की छटनी कर रही है. वैश्विक स्तर में अमेजन, माइक्रोसॉफ्ट और फेसबुक अपने कर्मियों को नौकरी से निकाल रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.