पेपर लीक मामले पर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी ने लोक सेवा आयोग के बाहर किया विरोध प्रदर्शन

देहरादून, लोक सेवा आयोग में पटवारी पेपर लीक मामले में एसटीएफ द्वारा चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है और मामले की जांच की जा रही है विपक्ष इस मामले में सरकार को घेरने का कोई भी मौका नहीं छोड़ रहा है. आज कांग्रेस और आम आदमी पार्टी द्वारा लोक सेवा आयोग के गेट के बाहर विरोध प्रदर्शन किया गया. कांग्रेस द्वारा इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की गई तो वही आम आदमी पार्टी हाई कोर्ट के जज की अध्यक्षता में कमेटी बनाकर जांच की मांग कर रही है. विरोध प्रदर्शन में कांग्रेस के विधायक और भारी संख्या में कार्यकर्ता मौजूद रहे बढ़ते विरोध को देखते हुए पुलिस द्वारा सभी को गिरफ्तार किया गया.

कांग्रेस लोक सेवा आयोग में पटवारी पेपर लीक मामले में सरकार पर आरोप लगा रही है. उसका कहना है कि विधानसभा सत्र में लोक सेवा आयोग के भ्रष्टाचार का चिट्ठा हमने खोला था. सबूतों के साथ हमारे द्वारा दिखाया गया था कि कैसे लोक सेवा आयोग में भ्रष्टाचार हो रहा है मगर सरकार द्वारा इसका संज्ञान नहीं लिया गया और आज पटवारी पेपर लीक मामले में चार दिन बाद सरकार मान रही है कि पेपर लीक हुआ है. 350 प्रश्नों को बेचा गया है. इससे पहले हुई भर्तियों में भी हमें संदेह है कि उसमें भी भ्रष्टाचार हुआ है. कहना है कि लोक सेवा आयोग और उत्तराखंड की सरकार किसी भी परीक्षा को नहीं करा पा रही है और जब परीक्षा होती है तो पता चलता है कि पेपर लीक हो गया है. इससे देश में उत्तराखंड की छवि खराब हो रही है. हमारी मांग है लोक सेवा आयोग में पिछली जितनी भी परीक्षा हुई है उसकी सीबीआई से जांच कराई जाए और तब तक आगे की सभी परीक्षा निरस्त की जाए.

आम आदमी पार्टी द्वारा भी लोक सेवा आयोग में पटवारी पेपर लीक मामले पर सरकार को घेरने का कार्य किया जा रहा है. आम आदमी पार्टी के हरिद्वार का कहना है कि सरकार अगर जिम्मेदारी से काम करती तो 44 लोगों के जेल जाने के बाद 8 तारीख को हुई इस परीक्षा में पेपर लीक नहीं होता. आरोपियों को पता है कि जेल जाने के बाद उनकी जमानत हो जाएगी. बाद में करोड़ों रुपए कमाए जायेंगे. एसटीएफ द्वारा की गई इस कार्रवाई का हम धन्यवाद देते हैं. मगर सफेदपोश कोई भी गिरफ्त में नहीं है क्योंकि इनके संरक्षण के बिना कोई नकल नहीं हो सकती. सरकार हर मोर्चे पर फेल है इसलिए आम आदमी पार्टी आज धरने पर बैठी है. हमारी मांग है हाई कोर्ट के जज की अध्यक्षता में एक कमेटी बने जो इस मामले की जांच करें तब इसके असली गुनहगार सफेदपोश सलाखों के पीछे होंगे.

कांग्रेस और आम आदमी पार्टी द्वारा किए जा रहे इस प्रदर्शन को देखते हुए हरिद्वार पुलिस द्वारा भी सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे . एसपी सिटी स्वतंत्र कुमार का कहना है कि लोक सेवा आयोग के बाहर कांग्रेस और आम आदमी पार्टी द्वारा विरोध प्रदर्शन किया गया. इस प्रदर्शन में कांग्रेस के विधायक गण भी मौजूद थे. पुलिस द्वारा सबको गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई की जा रही है. कांग्रेस और आम आदमी पार्टी द्वारा पेपर लीक मामले में विरोध प्रदर्शन किया जा रहा था. पुलिस द्वारा पर्याप्त मात्रा में फोर्स लगाई गई थी.