रिपोर्ट में दावा- केवल 21 अरबपतियों के पास है देश की 40 फीसदी संपत्ति

के-न्यूज, ऑक्सफैम (Oxfam Report) ने भारत में बढ़ते अमीर-गरीब के बीच की खाई को लेकर नया खुलासा किया है। इस रिपोर्ट में चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि अगर भारत के 10 सबसे अमीरों पर 5 फीसदी टैक्स लगा दिया जाए तो बच्चों के स्कूल की पढ़ाई का के लिए पूरा पैसा मिल सकता है

देश में गरीब और अमीर के बीच की खाई कितनी हरा हो गई है, इसका खुलासा ऑक्सफैम में की रिपोर्ट में होता है. रिपोर्ट में दावा किया है कि भारत में केवल 1 फीसदी अमीरों के पास देश की 40 फीसदी संपत्ति है. देश के सबसे गरीब लोगों के पास देश की केवल 3 फीसदी संपत्ति है. रिपोर्ट में ये भी दावा किया गया है, कि देश के 21 अरबपतियों के पास 70 करोड़ लोगों से ज्यादा की संपत्ति उनके पास है. कोरोना काल में अरबपतियों की दौलत रोजना 3000 करोड़ रूपये के हिसाब से बढ़ रही है.

अमीरो को दौलत में रोज 121 फीसदी की बढ़ोत्तरी

Oxfam India Report की रिपोर्ट में बताया गया है कि कोरोना के प्रकोप के बाद से अमीरों के दौलत में रोजना 121 फीसदी का इजाफा हुआ है. पिछले साल कोरोना के प्रकोप के बाद जहां एक तरफ सभी आर्थिक क्रिया रूक गई थी. वही दूसरी ओर अरबपतियों की कमाई में तेजी से बढ़ोत्तरी होते जा रही है. रिपोर्ट के अनुसार देश में 21 आमीरों ने रोजाना 3600 करोड़ की कमाई की है. इनकी दौलत में रॉकेट की तरह तेजी बढ़ती दिखाई दे रही है.

देश में अरबपतियों की संख्या 166 पहुंची

देश के अमीरों की दौलत में किस तरह से इजाफा हुआ है, उसका अंदाजा देश के दिग्गज उद्योगपति गौतम अडानी (Gautam Adani) और मुकेश अंबानी की नेटवर्थ (Mukesh Ambani Net Worth) में तेजी देखकर लगाया जा सकता है. बीते साल 2022 में गौतम अडानी दुनिया के अन्य अमीरों की तुलना में सबसे ज्यादा कमाई करने वाले अरबपति रहे. ताजा रिपोर्ट में बताया रिपोर्ट में इस बात की भी जानकारी दी गई है कि 2020 में भारत में कुल अरबपतियों की संख्या 102 थी, लेकिन 2022 में ये आंकड़ा बढ़कर 166 हो चुका था.