दिल्ली को दहलाने की बड़ी साजिश नाकाम, 2 आतंकी गिरफ्तार हैंड ग्रेनेड के साथ मिले खून के निशान

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस समारोह से पहले दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने राजधानी को दहलाने की साजिश को नाकाम कर दिया है। पुलिस ने दो आतंकियों को गिरफ्तार किया है। इनके पास से दो हैंड ग्रेनेड, तीन पिस्टल और 22 गोलियां बरामद की गईं हैं।

पुलिस अधिकारियों ने शनिवार को इस संबंध में जानकारी दी। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने दो संदिग्धों को आतंकी संगठनों से संबंध रखने के शक में गुरुवार को गिरफ्तार किया था। पूछताछ के दौरान पुलिस को जानकारी मिली कि दोनों भलस्वा डेयरी इलाके में एक किराए के घर में रहते थे।

आतंकियों के ठिकाने से मिले दो हैंड ग्रेनेड 
पुलिस ने शुक्रवार रात को आतंकियों के ठिकाने पर छापेमारी की। इस दौरान पुलिस को दो हैंड ग्रेनेड मिले। आतंकियों के ठिकाने पर इंसानी खून के निशान भी मिले हैं। आरोपियों की पहचान जगजीत सिंह उर्फ जग्गा और नौशाद के रूप में हुई है।

इंसानी खून के निशान मिले
दिल्ली पुलिस की प्रवक्ता सुमन नलवा ने कहा कि आरोपियों को शुक्रवार को कोर्ट में पेश किया गया था। उन्हें 14 दिन की पुलिस हिरासत में भेजा गया है। पूछताछ के दौरान पता चला कि दोनों भलस्वा डेयरी इलाके के श्रद्धानंद कॉलोनी में किराए के मकान में रह रहे थे। इसके बाद पुलिस दोनों को उनके मकान में ले गई। वहां से दो हथगोले बरामद किए गए। मकान में एफएसएल की टीम को इंसानी खून के निशान भी मिले।

तीन पिस्टल और 22 जिंदा कारतूस बरामद 
दोनों आतंकियों के पास से दिल्ली पुलिस ने तीन पिस्टल और 22 जिंदा कारतूस बरामद किया है। पुलिस को शक है कि जग्गा के संबंध कनाडा में रह रहे खालिस्तानी आतंकियों के साथ हैं। जग्गा कुख्यात बंबीहा गैंग का सदस्य है। उसे विदेश से काम कर रहे राष्ट्र विरोधी तत्वों से निर्देश मिल रहे थे। उत्तराखंड में हत्या के एक मामले में वह पैरोल पर जेल से बाहर आया था। इसके बाद फरार हो गया था। वहीं, नौशाद के संबंध आतंकी संगठन ‘हरकत उल-अंसार’ से हैं।