2007 से सूखे को मिटाने भारतीय शेर कंगारू देश में मौजूद,मिशन टी-20 क्रिकेट वर्ल्ड कप पर रोहित आर्मी

क्रिकेट के सबसे छोटे महासमर टी-20 वर्ल्ड कप  के लिए  रोहित आर्मी आज ऑस्ट्रेलिया के मेलवर्न में मौजूद है , वहां उसे 23 अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ टी-20 वर्ल्ड कप में अपना पहला मुकाबला खेलना है। लिमिटेड ओवर फॉर्मेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट का फाइनल भी इसी मैदान पर होगा। 28 दिनों के इस महासमर में भारतीय टीम को कई कठिन चुनोतियों का सामना करना है वार्म अप मैचों में जहां वर्ल्ड चैंपियन ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड जेसी किसी भी टीम को हराने  वाली टीमों से टीम इंडिया की भिडंत होगी तो वहीं सुपर-12 में किसी भी टीम को अपने खेल से चौंकाने वाली पाकिस्तान और साउथ अफ्रीका की चुनौती टीम इंडिया की  मुश्किलें बढ़ा सकती हैं, तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह चोट के कारण वर्ल्ड कप से बाहर हो गए हैं,बोर्ड ने उनके विकल्प की घोषणा नहीं की है, बुमराह के अलावा मोहम्मद शमी,रविन्द्र जडेजा जैसे अनुभवी मैच विनिंग गेंदबाजों की कमी भी टीम इंडिया को खल सकती है,लेकिन फिर भी पुरे देश की उम्मीदों के साथ उड़ान भर रोहित आर्मी  कंगारू देश में दुनिया से टक्कर लेने पहुँच गई है इस उम्मीद के साथ की काँटों से भरे इस सफ़र में गुलशन मिल जायेगा ।

BCCI ने Twitter पर शुभकामनाएं  दी

जाने से पहले टीम इंडिया ने quality टाइम EXPEN किया

2 दिन पहले साउथ अफ्रीका से जीती सीरीज, ऑस्ट्रेलिया को 2-1 से हराया था
टीम इंडिया ने दो दिन पहले साउथ अफ्रीका को 3 टी-20 इंटरनेशनल मैचों की सीरीज में 2-1 से परास्त कर दिया है। इससे पहले उसने कंगारुओं को अपने घर में 2-1 से मात दी थी।  घरेलु  मैदानों  में  10 सीरिज  से  अजय टीम इंडिया   कंगारू देश में  2007 की सफलता  दोहराने  पहुंच  गई  है   

अब जानिए पर्थ को बेस कैंप क्यों बनाया…
पर्थ को बेस बनाने की सबसे बड़ी वजह वहां की पिच का बाउंसी होना है। ऐसे में टीम इंडिया पर्थ प्रैक्टिस कर बाउंस और स्पीड फ्रेंडली होना चाहेगी, ताकि बल्लेबाज वर्ल्ड कप में तेज गेंदबाजों का आसानी से सामना कर सकें। 

टी-20 वर्ल्ड कप में भारत के सुपर-12 के अहम  मुकाबले    

 

किसी भी बड़े  टूर्नामेंट के लिए भारतीय टीम का चयन हमेशा सवालों के घेरे में रहा है, कई सवालों के साथ टीम इंडिया  क्रिकेट के सबसे छोटे महासमर टी-20 वर्ल्ड कप के रण में उतर तो गई है लेकिन क्या  2007  से चले आ रहे इस सूखे को समाप्त कर पायेगी 

शुरुआत टॉप 3 से यानी, रोहित-राहुल-विराट
वर्ल्ड कप में भारत के लिए रोहित शर्मा और केएल राहुल ओपनिंग करेंगे और विराट कोहली नंबर-3 पर आएंगे। यह बात आज नहीं साल भर पहले से तय थी। इसके बावजूद ये सितारे पिछले एक साल में टीम इंडिया के करीब आधे मुकाबलों से गायब रहे। विराट 59 इंटरनेशनल मैचों में से 31 में गायब रहे। राहुल 37 मैच नहीं खेले। वहीं, कप्तान रोहित शर्मा ने भी 25 मैच मिस किए। सिर्फ टी-20 की बात करें तो विराट पिछले टी-20 वर्ल्ड कप के बाद हुए भारत के 35 में से 21 मैच नहीं खेले। राहुल 23 मैचों से गायब रहे, तो रोहित ने 9 मुकाबले मिस किए।