उत्तरकाशी के जंगलों में 6 दिन अकेला भटकता रहा अमेरिकी नागरिक :एसडीआरएफ ने किया रेस्‍क्‍यू 

भारतीय मूल का एक 62 वर्षीय अमेरिकी नागरिक छह दिन तक उत्तरकाशी के डोडीताल ट्रैक पर जंगल में भटकता रहा आपको बता दे की इस दौरान उन्होंने अपना यूरिन पीकर प्यास बुझाई  बीते 17 अगस्त को रास्ता भटके भारतीय मूल के अमेरिकी नागरिक राजीव राव  रेस्क्यू कर लिए गए है लेकिन इन बीते 5 दिनों ने उनकी हालत खराब कर दी राजीव ने बताया की किस तरीके से उन्होंने माउथ आर्गन बजाकर मदद की गुहार लगाई डोडीताल  से करीब आठ किमी पहले मांझी के पास वह कुछ दूर तक यात्रा के आगे-पीछे चलते रहे फिर वह मांझी से डोडीताल की ओर जाने वाले रास्ते के बजाय गलती से जंगल की तरफ बढ़ गए जिसके बाद उन्हे वापिस जाने का रास्ता नहीं मिल पाया

बोतल में जमा करी यूरिन

राजीव ने बारिश का पानी पीकर कुछ दिन तो काम चलाया पर आगे जब उन्हें प्यास लगी तो वो अपना ही यूरिन पीने पर विवश हो गये राजीव को रेस्क्यू करने वाले एसडीआरएफ (SDRF) के जवान शक्ति रमोला ने बताया कि वह पानी के लिए छटपटा रहे थे और बोतल में एकत्र की गई यूरिन से प्यास बुझाने की कोशिश कर रहे थे संयोग से समय रहते राजीव से संपर्क हो गया और एसडीआरएफ की टीम उन्हें सकुशल वापस ले आई।

ग्रामीण महिला बनी देवदूत

अमेरिकी नागरिक के लिए अगोड़ा गांव की महिलाएं देवदूत बनी। 22 अगस्त को अगोड़ा गांव की महिलाएं घास के लिए डोडीताल ट्रैक के निकट उडकोटी नाला में गई थी। वहां घास काटने के दौरान महिलाओं को पहाड़ी पर एक व्यक्ति दिखाई दिया। महिलाओं ने इसकी सूचना वन विभाग और   ( SDRF) को दी। जिसके बाद राजीव राव को रेस्क्यू किया गया।