हर समय स्ट्रेस में रहने की हो गई है आदत, इस थेरेपी से मिनटों में दिखेगा फर्क

तनाव एक ऐसी समस्या जो हमारे जीवन में एक हिस्से के रूप में शामिल हो गई है. न चाहते हुए भी लोग स्ट्रेस में रहते हैं और इनकी संख्या तेजी से बढ़ रही है. तनाव में रहने वालों को एक नहीं कई हेल्थ प्रॉब्लम्स अपनी चपेट में लेती हैं, जिनसे उभर पाना कभी-कभी न के बराबर हो जाता है. रिपोर्ट्स के मुताबिक युवाओं में स्ट्रेस की समस्या ज्यादा नजर आती है और इस कारण वे डिप्रेशन तक का शिकार हो जाते हैं. स्ट्रेस को दूर करने के लिए मेडिटेशन, योग, खानपान कई कारगर तरीके हैं, लेकिन एक ऐसी थैरेपी भी है, जो इससे चुटकी में राहत दिला सकती है.

स्ट्रेस को दूर करती है ये थैरेपी

एक रिसर्च सामने आई है कि ज्यादातर मामलों में युवा स्ट्रेस से ज्यादा प्रभावित रहते हैं. कम उम्र में हार्ट अटैक या हाई ब्लड प्रेशर जैसी समस्या तक हो जाती है. इसके लिए दवा और इलाज करवाना चाहिए, लेकिन म्यूजिक सुनने से भी बहुत फर्क देखा जा सकता है. संगीत सुनने से दिमाग शांत होता है और रिफ्रेश फील होने लगता है. रिसर्च के मुताबिक म्यूजिक थैरेपी का रूटीन फॉलो करना चाहिए, लेकिन ज्यादा आवाज भी नुकसान पहुंचा सकती है.

दर्दनाक यादें होती हैं दूर

अमेरिका में की गई रिसर्च बताती है कि जिन लोगों को दर्दनाक यादें परेशान करती हैं उन्हें म्यूजिक थैरेपी की मदद लेनी चाहिए. रिपोर्ट्स के अनुसार ये दिमाग में उस हिस्से को प्रभावित करती है, जहां इस तरह की यादें मौजूद होती हैं. अब तक ये माना जाता था कि म्यूजिक से बुरे शब्दों को हटाने में म्यूजिक कारगर होता है, लेकिन अब ये माना जा रहा है कि ये बुरी घटनाओं या यादों को भी दिमाग से निकाल सकता है.

मिलते हैं ये फायदे

संगीत से न सिर्फ तनाव दूर होता है, बल्कि ये हमारे इम्यून सिस्टम को भी मजबूत बनाता है. एक्सपर्ट भी कहते हैं कि चाहे स्ट्रेस की दिक्कत हो या नहीं आपको दिन में एक बार कुछ देर के लिए अपना पसंदीदा संगीत जरूर सुनना चाहिए.