वर्ल्ड फोटोग्राफी पर खास: काफी पुराना है फोटोग्राफी का इतिहास

आज 19 अगस्त को पूरे विश्व भर में वर्ल्ड फोटोग्राफी मनाया जा रहा है आज के इस दौर में फोटोग्राफी का चलन इतना बड़ गया है की आजकल केवल फोटो खीचने के लिए भी बाजार मे ढेर सारे कैमरे उपलब्ध है तो आइए जानते है क्यों है वर्ल्ड फोटोग्राफी डे खास व जानिए दुनिया की पहली तस्वीर कब और किसने खीची?

कब ली गई दुनिया की पहली सेल्फ़ी?

आज भले ही सेल्फ़ी लेना किसी बच्चे के खेल जितना आसान हो गया हो पर आपको पता है की दुनिया की पहली कब और किसने ली थी ?
कहा जाता है की दुनिया की पहली सेल्फ़ी आज से करीब 182 साल पहले यानि साल 1839 मे अमेरिका के रॉबर्ट कॉर्नलियस ने ली थी हलाकी
उस समय कोई नहीं जानता था की ये सेल्फ़ी कहलाती है

क्यों मनाया जाता है फोटोग्राफी डे ?
इसके पीछे की कहानी कई साल पुरानी है कहा जाता है की 9 जनवरी 1839 को इसकी शुरुआत फ़्रांस से उस समय हुई जब फ्रेंच अकादमी ऑफ साइंस ने डेगरोटाइप प्रोसेस की घोंषणा की 19 अगस्त को फ़्रांसीसी सरकार ने इसके पेटेंट राइट्स खरीद लिए व इस आविष्कार को दुनिया के लिए वरदान बताया इसी वजह से हर साल 19 अगस्त को वर्ल्ड फोटोग्राफी डे के तौर पर मनाया जाता है