15 अगस्त के बाद तिरंगे का क्या हाल , पुलिस ने किया प्लान तैयार

 

 
प्रदेश  में देश की वर्षगांठ धूमधाम से मनाई गई  जिसमें हर घर तिरंगा जैसे कार्यक्रम जो 13 अगस्त से 15 अगस्त तक मनाया गया 
15 अगस्त तो हो गया सबने त्योहार के तरह इसे मना  भी लिया लेकिन इसके बाद इस तिरंगे का करना क्या है यह किसी को नहीं मालूम 
कई जगह देश का तिरंगा युही पड़ा   हुआ मिलता है जो एक तरह से देश की शान को कम करता है लेकिन प्रदेश में इस समस्या को लेकर पुलिस विभाग ने एक प्लान बनाया है 
जिसके अंतर्गत सभी जन जिनके तिरंगे खराब हो गए है या जो यह नहीं जानते की तिरंगे को किस तरह से डिस्पोज़्ड करना है उन्हे अपना तिरंगा पुलिस को सौपना होगा 
देहरादून ट्रैफिक पुलिस ने विशेष कार्ययोजना तैयार की है. इस कार्ययोजना के तहत ट्रैफिक पुलिस ने शहर भर में प्वाइंट्स बनाए हैं, जहां लोग अपने झंडों को दे सकते हैं और पुलिस नियमानुसार झंडे को डिस्पोज करेगी इस पर आम जनता से अपील की गई कि फ्लैग कोड ऑफ इंडिया (Flag Code of India) के मुताबिक, फटे हुए अथवा धूमिल राष्ट्रीय ध्वज को डिस्पोज करने में यदि वे असमर्थ हैं तो वे ध्वज को यातायात पुलिस देहरादून के 76 ट्रैफिक ड्यूटी प्वाइंट, 36 ट्रैफिक बूथ, 20 ट्रैफिक अम्ब्रेला और एसपी ट्रैफिक कार्यालय पर यातायात पुलिसकर्मी को सुपुर्द कर सकते हैं. इसके बाद यातायात पुलिस द्वारा सभी राष्ट्रीय ध्वज को इकट्ठा कर नियमानुसार डिस्पोज किया जाएगा.