सरकारी बैठकों में बुके और चाय पर प्रतिबंद

देहरादून , सरकार ने बैठकों मे फूलों की बुके देने की परंपरा से लेकर बैठकों के बीच मे चाय परोशने पर  भी  प्रतिबंध लगा | बुधवार को मुख्य सचिव  एसएस संधु ने एक बैठक दौरान सभी सरकारी बैठकों को परिणामदायक बनाने के लिए नए आदेश जारी किए हैं |जिसके अंतर्गत सरकारी बैठकों के एजंडों पर बनी सहमति के बिन्दु भी हर हाल मे अगले दिन प्रस्तुत करने होंगे |सिंधु ने कहा की सभी शासन स्तर पर होने वाली सरकारी बैठकों के दौरान एसा  आभास किया गया की आयोजन विभाग पूरी तैयारी के साथ बैठक मे नहीं पहुचते |साथ ही आधा समय बैठकों मे स्वागत करने मे बर्बाद कर दिया जाता हैं | इसके साथ ही सरकारी बैठकों के एजंडों के प्रस्तुतीकरण मे भी अधिक समय व्यर्थ किया जाता हैं |  सिंधु ने बताया की यह परंपरा पूर्ण गलत हैं |इन सभी कार्यक्रम की वजह से बैठकों के मुख्य बिन्दुओ पर पर्याप्त  चर्चा नहीं हो पाती | साथ ही उन्होंने आदेश दिए हैं की भविष्य की सभी सरकारी बैठकों मे बुके भेंट नहीं की जाएंगी |बैठक के दौरान बीच मे सिर्फ पानी  दिया जाएगा |जलपान सामग्री की व्यवस्था नहीं की जाएगी क्यूकी  यह चर्चा मे बाधा का कार्य करती हैं |बैठक के बाहर अन्य स्थान पर पेजल ओर चाय की व्यवस्था रखी  जाएगी |सचिव ने कहा की एजंडा से संबंधित प्रस्तुतीकरण को बुलेट ,प्वाइंट ग्राफिक्स ,सांकेतिक छाया चित्रों और न्यूनतम आकड़ो से प्रस्तुत किया जाएगा