बहुत जल्द दिल की बीमारियों का गढ़ बनेगा भारत

बहुत जल्द दिल की बीमारियों का गढ़ बनेगा भारत 

आए दिन लोगों को हार्ट अटैक या हार्ट स्ट्रोक सी बड़ी बीमारिया हो रही है। चलते समय के साथ कम उम्र नोजवानों को भी होने लगी है। दिल की बीमारी खराब जीवनशैली, व्यायाम न करना, गलत आहार और सबसे बड़ी बीमारी तनाव लेना है जोकि सीधा इंसान के दिल पर प्रभाव डालता है। विशेषज्ञों का कहना है की आने वाले समय में दिल का रोग भारत में महामारी का रूप धारण कर लेगा। अमेरिकन एकेडमी (AAYM)योग एण्ड मेडिटेशन का कहना है की भारत दिल की बीमारियों के लेकर सभी देशों को पीछे छोड़ देगा। इसके साथ साथ भारत में डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर , मोटापा,मधुमेह बीमारिया भी काफी फैल रही है। सबसे बड़ी बीमारी डिप्रेशन जो की आज के दशक में हर एक को है भारत में कम से कम 70% लोग डिप्रेशन से ग्रसित है जो जिन में से तो कुछ अपनी जान गवा लेते है क्युकी यह बीमारी सीधा इंसान के दिमाग पर असर डालती है। इन सबको सिर्फ योग से ही ठीक किया जा सकता है। कहा गया है की करे योग रहे निरोग क्युकी योग से हर एक बीमारी को ठीक किया जा सकता है । जो लोग नियमित योग करते है वो ही बस निरोगी रह सकते है। योग करने से तनाव पैदा करने वाले जीन बहुत सीमित हो जाते है।  
कौन सा व्यायाम करना चाहिए
1. भस्त्रिका प्राणायाम
2. उज्जाई प्राणायाम
3. कपालभाति प्राणायाम
इन प्राणायाम को करने से बड़ी से बड़ी बीमारी को दुर किया जा सकता है और निरोगी जीवन जिया जा सकता है।