काँवड़ यात्रा पर आतंकी हमले का खतरा,हरिद्वार में बड़ाई सुरक्षा

भारत में हर साल काँवड़ यात्रा होती है जिसमें भारी मात्र श्रद्धालु पहुँचते है,  पिछले 2 साल कोरोना की वजह से रुकी यात्रा को 2022 में फिरसे शुरू किया गया है ,जिसकी वजह से इस बार अधिक मात्र में श्रद्धालुओं के आने की आशंका है। पुलिस के हिसाब से इस बार 4 करोड़ से अधिक यात्री पहुँच सकते है हरिद्वार।

वही इस दौरान यात्रा में आतंकी साये के मंडराने की खबर आ रही है  जिसको लेकर केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने अलर्ट जारी किया है और उत्तराखंड पुलिस भी यात्रियों के लिए पुख्ता इंतजाम कर रही है।

उत्तराखंड में 14 जुलाई से सावन और काँवड़ की शुरुआत हो गई थी ,इसी क्रम में यात्रियों का हरिद्वार आना भी शुरू हो गया था , 13 जुलाई को ही हरिद्वार में लगभग 2 लाख काँवड़ यात्री पहुंचे थे।

डाक काँवड़ के शुरू होते ही हरिद्वार में भारी मात्र में यात्री आना शुरू हो जाते है,इसे में पुलिस विभाग ने 10 हजार पुलिस कर्मचारियों को हरिद्वार व ऋषिकेश में तैनात किया गया है।

केन्द्रीय मंत्रालय के जारी कीये गए ऐड्वाइज़र को देखते हुए, भारी सुरक्षा की जरूरत की वजह से कई वरिष्ठ अधिकारियों को भी तैनात किया गया है।

इसमें राजपत्रित अधिकारियों के साथ अधिसूचना, पिएएससी, आईआरबी, आपदा राहत, केन्द्रीय अर्धसैनिक बाल के अलावा कोई भी आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए एटीएस, बीडीस व स्वान दल की टीमों की ड्यूटी लगवाई गई है।

इसी के चलते पुलिस महानिदेशक अशोक कुमार से पता चल की केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने अलर्ट जारी किया है , और पुलिस विभाग पूरी तरह से मुस्तैद है।