अखिलेश यादव का हल्ला बोल

अखिलेश यादव का हल्ला बोल

सपा सोशल मीडिया के प्रभारी को गिरफ्तार करने के मामले में सपा सुप्रीमो अखिलेश पहुंचे पुलिस मुख्यालय

सोशल मीडिया हैंडलर मनीष अग्रवाल के गिरफ्तारी में सपा कार्यकर्ताओं ने जताया विरोध

 

मनीष श्रीवास्तव

के न्यूज़

लखनऊ….सोशल मीडिया पर छिड़ी जंग के बाद  सपा टि्वटर हैंडल करने वाले मनीष जगन अग्रवाल को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया …. इसकी सूचना मिलते ही अखिलेश यादव शहीद पथ स्थित पुलिस मुख्यालय पहुंचे ….अखिलेश पुलिस मुख्यालय पहुंचे…….पुलिस मुख्यालय में पहुंचने के बाद अखिलेश यादव को मुख्यालय में कोई भी जिम्मेदार अधिकारी नजर नहीं आया… जिसको लेकर  ट्वीट करके जानकारी दी कि मैं पुलिस  मुख्यालय में हूं और यहां कोई जिम्मेदार अधिकारी नहीं है इसके बाद आनन-फानन में पुलिस के आला अधिकारी मुख्यालय पहुंचे….  अखिलेश यादव के पहुंचने के साथ ही सपा कार्यकर्ताओं की भारी भीड़ भी पुलिस मुख्यालय पहुंचने लगी ….अखिलेश के कुछ देर बाद ही स्वामी प्रसाद मौर्य समेत दर्जनों कार्यकर्ताओं ने मुख्यालय पर धरना और नारेबाजी शुरू कर दी….. कार्यकर्ताओं ने सीधे पुलिस प्रशासन पर एकतरफा कार्यवाही करने का आरोप लगाते हुए मनीष जगन अग्रवाल की रिहाई की मांग की…. इस दौरान सोशल मीडिया पर सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव का पुलिस से बातचीत का एक वीडियो वायरल हुआ…. जिसमें पुलिस विभाग के अधिकारियों ने अखिलेश को चाय के लिए पूछा तो अखिलेश ने चाय पीने से इनकार करते हुए यह तक कह दिया कि मुझे आपकी चाय पर भरोसा नहीं हो सकता ….आप चाय में कुछ मिलाकर मुझे पिला दे….. जिसके बाद अखिलेश ने अपनी पार्टी के कार्यकर्ताओं से बाहर से चाय लाने के लिए कहा…..2 घंटे तक पुलिस मुख्यालय में अखिलेश यादव पुलिस अधिकारियों से बातचीत करते रहे और बाहर सपा कार्यकर्ता धरना और नारेबाजी करते रहे….. थोड़ी देर बाद अखिलेश यादव वहां से निकलकर सीधे गोसाईगंज स्थित जेल पहुंचे ….

जहां मनीष जगन अग्रवाल से सपा सुप्रीमो और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने मुलाकात की….. मुलाकात के बाद अखिलेश यादव ने बाहर आकर मीडिया के सामने भाजपा सरकार पर जमकर हमला बोला…..अखिलेश ने कहा कि भाजपा जबरन मुकदमा लिख कर सपा कार्यकर्ताओं को परेशान कर रही है अखिलेश ने कहा कि मैंने भी भाजपा के समर्थन में ट्वीट कर रहे लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई के लिए शिकायत की है पुलिस ने आश्वासन दिया है कि वह उन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई करेगी जो अभद्र भाषा का इस्तेमाल कर रहे थे…….अखिलेश यादव के मुख्यालय से निकलने के बाद प्रशांत कुमार एडीजी L/O ने प्रेस वार्ता कर मनीष जगन अग्रवाल की गिरफ्तारी के मामले की जानकारी मीडिया को दी….वहीं दूसरी तरफ बीजेपी ने अखिलेश यादव के मुख्यालय पहुंचने को लेकर आपत्ति जताते हुए कहा कि सपा लगातार ट्विटर के माध्यम से महिलाओं के खिलाफ अभद्र टिप्पणी और दंगा भड़काने का प्रयास कर रही थी ….ट्विटर की जंग अब सड़कों पर उतर आई है अखिलेश यादव ने बीजेपी मुख्यालय पहुंचकर साफ संकेत दिए कि सपा कार्यकर्ताओं के खिलाफ यदि कार्रवाई होती है तो अखिलेश उनके साथ कंधे से कंधा मिलाकर चलने को तैयार हैं तो बीजेपी सरकार भी साफ संकेत दे रही है कि यदि अमर्यादित भाषा और महिलाओं की सुरक्षा को लेकर यदि टिप्पणी की गई तो कार्रवाई की जाएगी देखना होगा कि ट्विटर से जुड़ गए जंग आखिरकार कहां रुकती है…..