“चाय में जहर हुआ तो…. मैं नहीं पियूंगा” , पुलिस मुख्यालय में IT सेल चीफ की गिरफ्तारी पर भड़के अखिलेश यादव

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने पुलिस मुख्यालय की चाय पीने से इंकार कर दिया। उन्होंने कहा कि मुझे भरोसा नहीं है, किसी ने जहर मिला दिया तो। उन्होंने कहा कि मैं बाहर से मंगा कर चाय पी लूंगा,लेकिन पुलिस की चाय नहीं पियूंगा। उन्होंने यह भी कहा कि मैं अपनी चाय पियूंगा और पुलिस अपनी चाय पीये। उन्होंने यह बातें रविवार को समाजवादी पार्टी के ट्विटर हैंडल के संचालक मनीष जगन अग्रवाल की गिरफ्तारी के बाद राजधानी स्थित पुलिस मुख्यालय पर पहुंचने के बाद कही।

दरअसल, समाजवादी पार्टी के आईटी सेल संचालक को हजरतगंज पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। जिस शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया है उसका नाम मनीष जगन अग्रवाल बताया जा रहा है। मनीष पर आरोप है कि सपा के ट्वीटर हैंडल से अभद्र टिप्पणी की गई थी, जिसके बाद मनीष पर एफआईआर दर्ज हुई।

जिस ट्वीटर हैंडल से अभद्र टिप्पणी की गई थी। उसका संचालन मनीष किया करते थे। उसी पर उनकी गिरफ्तारी की गई है।  इस गिरफ्तारी के बाद सपा मुखिया अखिलेश यादव राजधानी स्थित पुलिस मुख्यालय पहुंचे , वहीं सपा कार्यकर्ता पुलिस मुख्यालय के बाहर इस गिरफ्तारी के विरोध में प्रदर्शन कर रहे थे |

ऋचा राजपूत ने दर्ज कराया था केस

6 जनवरी को लखनऊ में बीजेपी युवा मोर्चा की सोशल मीडिया इंचार्ज डॉ. ऋचा राजपूत ने समाजवादी पार्टी मीडिया सेल नाम के टि्वटर हैंडल पर रेप और जान से मारने की धमकी दिए जाने पर हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज करवाया था | ऋचा ने कहा था, ‘समाजवादी पार्टी के आधिकारिक ट्विटर हैंडल से जान से मारने और बलात्कार की धमकी दी जा रही है, मुझे कुछ होता है तो उसकी जिम्मेदारी अखिलेश यादव की होगी|’

गेट पर प्रदर्शन करने वालों पर होगी कार्रवाई

एडीजी एलओ प्रशांत कुमार ने इस मामले में कहा कि एक राजनीतिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अपने कुछ विधायकों के साथ डीजीपी मुख्यालय पहुंचे थे | रविवार के कारण मुख्यालय में कम अधिकारी रहते हैं, लिहाजा सूचना मिलते ही सक्षम अधिकारी व लखनऊ पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे थे | उनको बताया गया कि समाजवादी पार्टी के सोशल मीडिया टि्वटर हैंडल से किए जा रहे ट्वीट को लेकर मनीष जगन अग्रवाल की गिरफ़्तारी की गई है | इस मामले में शांति व्यवस्था भंग होने के पूरे आसार थे |उन्होंने कहा कि नवंबर से ही यह प्रकरण चल रहा था | पूरे मामले की पड़ताल के बाद गिरफ्तारी की गई है, उन्होंने कहा कि गेट पर प्रदर्शन करने पर भी कार्रवाई होगी |