स्वतंत्र भारत

भारत को आज आजाद हुए पूरे 75 साल हो गए हैं | और ईस  8 दशक की आजादी में हमारे देश ने काफी उतार-चड़ाव देखा हैं | हजारों लोगों की शहादत और लंबे संघर्ष के बाद हमारे देश ने 1947 में आजादी हासिल की | यह आजादी आसान नहीं थी हमें बटवारे के दंश का सामना करना पड़ा |कोरोना संकट के दौर में वेशविक स्तर पर हालत काफी बदले हैं | खासकर चीन की आक्रामक नीति को लेकर चीन आक्रामक की सिरदर्दी  तो थी ही  इस बीच रूस ओर यूक्रेन पर हमले ने और खराब कर दिया | एसी स्तिथि मे भारत ने हमेशा गुटनिरपेक्षता की नीति को अपनाया | और  आज एक ताकतवर देश के रूप मे उभर रहा हैं |आज भारत न सिर्फ एशिया बल्कि पूरी दुनिया में अपनी ताकत इस कदर बढ़ा ली हैं | की अमेरिका जेसा शक्तिशाली राष्ट्र भी भारत का साथ बगैर आगे बढ़ने की नहीं सोचता |

भारत की अहमियत पिछले कुछ सालों में खासी बड़ी हैं | रूस – यूक्रेन जंग के दौरान दुनिया ने इसे बखूबी देखा | पिछले ढाई साल से दुनिया कोरोना महामारी का दंश झेल रही हैं और इस दौरान नई दिल्ली ने दुनियाभर में वेकसीन के अलावा मास्क – पीपीई किट आदि चीजें मदद के तौर पर भेजे थे | भारत हमेशा से ही अपने पड़ोसी देशो  नेपाल , भूटान , श्रीलंका , बांगलादेश , आदि  का बड़ा भाई के रूप मे हमेशा सहायक रहा हैं | इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र संघ में भारत की स्थायी सदस्यता का कई देश खुलकर समर्थन करने लगे हैं | हालांकि भारत अभी संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का दो साल के लिए अस्थायी सदस्य हैं