भारत की छोड़ रहे है लोग नगरिकता

आखिर क्यू छोड़ काफी लोग भारत की नगरिता

ग्रह मंत्रालय के अनुसार 2021 मे 163,370 लोगों ने भारत की नागरित छोड़ दी। इन मे से कही लोग तो वो है जिन्हों ने अपनी निजी वजह करके नागरित छोड़ने का फ़ेसला किया है दी गई रिपोर्ट के अनुसार यह पता चल है की भारत के सबसे जड़ लोगों ने अमेरिका की नागरित ली है। इसके बाद सबसे लोगों ने ऑस्ट्रेलिया की नागरित ली उसके बाद कनाडा की। बात की जाए तो 2015 से 2020 के बीच मे आठ लाख से जायद लोगों नर भारत की नागरित छोड़ दी है। 2020 मे बाहर जाने वाले लोगों की संख्या काफी काम थी जो की करोना करके हुई थी। करोना करके उस समय बाहर के विदेशी मुल्कों ने वीजा बंद कर दिया था। जिस करके इसकी संख्या काफी काम हो गई थी। पर अब फिर जायद से जायद लोग बाहर जा रहे है।

इस बार लोगों का बाहर जाने का जादा कारण यह हो सकता है की लोगों का करोना करके काफी नुकसान हुआ था लोगों का अच्छे कार्य बंद हो गए थे। करोना करके काफी लोगों को बाहर की नागरित नहीं मिल पाई थी अब लोगों 2022 मे वह मिल गई है। इस बात पर काफी सवाल उठाए गए। काफी लोगों से बात की गई जो भारत की नागरित छोड़ कर बाहर चले गए है तो उन्हों ने बतया की बाहर का रहना सहन काफी अछा है और वाह ज़िंदगी काफी आसान है। स्टैन्डर्ड ऑफ लिविंग बहुत बड़िया है। उनका यह भी कहना है की भारत से बेहतर सुविदह उनको बाहर मिलती है और मोके भी काफी बेहतर मिलते है।

लोगों का कहना है की वाह का महोल काफी अच्छा है। आप जितना काम करते है उसके हिसाब से पेसे काफी अच्छे मिलते है। इसलिए लोग भारत की नागरित को छोड़ने के लिए जलधी मान जाते है। इस पर काफी रिपोर्ट तयार की गई है। की लोग आखिर इतना क्यू बाहर जाने को बड़वा दे रहे है। भारत की संख्या काफी कम होती जा रही है।