Lips Care in Winter : सर्दियों में होंठ फटने की समस्‍या, रखें इन बातों का ध्यान

सर्दियों ने दस्‍तक दे दी है. जहां गर्मियों से राहत मिली है, वहीं इस मौसम में स्किन (Skin) से जुड़ी कई समस्‍याएं पनपने लगती हैं. साथ ही होंठ भी सूखने और फटने लगते हैं. सर्दियों में खुश्क हवाओं के चलते फटे होंठों की समस्या आम है. ऐसे में अगर लिपबाम या वैसलीन वगैरह प्रयोग करके घर से बाहर निकल जाएं तो धूल के कणों की वजह से समस्या और बढ़ जाती है. कई बार शरीर में पोषक तत्‍वों और पानी की कमी होने पर भी होंठ फटने लगते हैं.

रखें इन बातों का ध्यान

पिएं भरपूर पानी

जब भी शरीर में नमी की कमी होती है, तभी इस तरह की समस्याएं बढ़ती हैं. सर्दियों में आमतौर पर लोग पानी कम पीते हैं. इसके कारण त्वचा व होंठ खुश्क होकर फटने लग जाते हैं. इनसे बचने के लिए भरपूर पानी पिएं.

न फिराएं होंठों पर जीभ

जब भी हमारे होंठ सूखे हम उन पर जीभ फिराना शुरू कर देते हैं. ताकि होंठ नरम बने रहें. मगर इसका इन पर उल्‍टा असर पड़ता है और होंठों की स्किन फटने लगती है. इसकी वजह यह है कि होंठों से लगने वाली लार इन्‍हें सूखा कर देती है. इसमें मौजूद एंजाइम की वजह से स्किन की नमी कम होने लगती है. इसलिए अपने होंठों पर जीभ फिराने से बचें.

इन बातों को न करें नजर अंदाज

  • बाहर आते जाते समय फटे होंठों पर लिप्सटिक, बाम आदि लगाने से परहेज करें.
  • कई लोगों में आदत होती है कि वे होंठ सूखने पर उन्हें जीभ से गीला करते हैं या दांतों से काटते हैं, ऐसा न करें. इससे आपकी परेशानी कम होने की बजाय और बढ़ जाएगी.
  • यदि स्मोकिंग या ड्रिंक की आदत है तो इस पर ब्रेक लगाना होगा, वर्ना कोई भी उपाय काम नहीं करेगा.
  • किसी भी उपाय को आजमाने से पहले होंठों को अच्छी तरह साफ करें. उसके बाद ही कोई बाम, जेल आदि लगाएं.
  • कई लोगों में होठों को बार-बार हाथ लगाने की आदत होती है। ऐसा करने से होठों के फटने की समस्या और ज्यादा बढ़ जाती है। ऐसे में आप ऐसा न करें। इसके अलावा होठों पर बार-बार हाथ लगाने से सूजन और खुजली भी हो सकती है।