Omicron symptoms: ओमिक्रॉन संक्रमण का बढ़ रहा खतरा, दिखे ये लक्षण तो हो जाएं सतर्क

कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन (omicron variant) अब तक 90 देशों में अपने पैर पसार चुका है. WHO भी इसे ‘वैरिएंट ऑफ कंसर्न’ की श्रेणी में डाल चुका है. ये वैरिएंट बहुत संक्रामक है और तेजी से फैलता है. ओमिक्रॉन स्ट्रेन के स्पाइक प्रोटीन में 30 से भी अधिक म्यूटेशन हैं, जो कि इसके पिछले किसी भी स्ट्रेन में नहीं थे. WHO का भी कहना है कि डेल्टा की तुलना में इस वैरिएंट से होने वाली बीमारी हल्की रहेगी लेकिन किसी भी तरह किसी भी तरह की लापरवाही भारी पड़ सकती है.

ओमिक्रॉन के लक्षण

बहुत ज्यादा थकान– कोरोना के पहले के वैरिएंट की तरह ही ओमिक्रॉन की वजह से बहुत ज्यादा थकान महसूस हो सकती है. थकान और कम एनर्जी के साथ हर समय आराम करने का मन होता है. इसकी वजह से रोजमर्रा के काम करने में दिक्कत आ सकती है.

गले में चुभन– दक्षिण अफ्रीकी डॉक्टर, एंजेलिक कोएत्जीका कहना है कि ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीज गले में खराश की जगह चुभन का अनुभव कर रहे हैं, जो असामान्य है. गले में खराश और चुभन काफी हद तक एक तरह ही हो सकते हैं. गले की चुभन में जलन या कुछ गड़ने जैसा महसूस होता है जबकि गले की खराश में दर्द ज्यादा होता है.

हल्का बुखार– बुखार COVID-19 के आम लक्षणों में से एक है. कोरोना के पिछले वैरिएंट में हल्के से तेज बुखार तक के लक्षण देखे जा रहे थे. डॉक्टर कोएत्जी के अनुसार, ओमिक्रॉन के मरीजों को हल्का बुखार हो रहा है जो अपने आप ही ठीक हो जाता है.

रात को पसीना आना और शरीर में दर्द– दक्षिण अफ्रीका के स्वास्थ्य विभाग ने ओमिक्रॉन के लक्षणों को दो नई बातों को शामिल किया है. पहला कि ओमिक्रॉन से संक्रमित व्यक्ति को रात के समय पसीना आता है. रात को आने वाला ये पसीना इतना ज्यादा होता है कि इससे आपके कपड़े या बिस्तर तक गीले हो जाते हैं, भले ही आप किसी ठंडी जगह पर लेटे हों. इसके साथ ही पूरे शरीर में तेज दर्द महसूस हो सकता है.

सूखी खांसी– ओमिक्रॉन के मरीजों को सूखी खांसी भी हो सकती है. ये एक ऐसा लक्षण है जो कोरोना के अब तक के सभी स्ट्रेन में देखा गया है. आमतौर पर ये सूखी खांसी गले में खराश के साथ ही आती है. अब तक के मिले डेटा के मुताबिक, ओमिक्रॉन में हल्के लक्षण ही महसूस होते हैं.

ओमिक्रॉन वैरिएंट में ये लक्षण नहीं

कुछ लक्षण ऐसे भी हैं जो कोरोना के पिछले वैरिएंट में तो देखे गए थे लेकिन ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों में ये नहीं देखे जा रहे हैं. जैसे कि इस नए वैरिएंट में ना तो मरीजों को खाने का स्वाद या सुगंध जा रहा है और ना ही बंद या भरी नाक जैसे लक्षण महसूस हो रहे हैं. ओमिक्रॉन के मरीजों को बहुत तेज बुखार भी नहीं हो रहा है. मरीजों में सांस से जुड़ी कोई दिक्कत भी नहीं देखने को मिल रही है.