ओमिक्रॉन से होटल-रेस्तरां उद्योग सतर्क, क्या क्रिसमस व न्यू ईयर की बुकिंग पर पड़ेगा प्रभाव!

कोरोना महामारी से प्रभावित भारतीय होटल,रेस्तरां उद्योग कोरोना वायरस के नये स्वरूप ओमिक्रॉन से काफी सतर्क है। हालांकि, उनका मानना है कि अभी घबराने वाली स्थिति पैदा नहीं हुई है, लेकिन इससे सर्दियों की छुट्टियों के दौरान कारोबार को झटका लगने की आशंका है।

बुकिंग रद्द होने की आशंका

कई राज्यों में क्रिसमस और नए साल के समारोहों पर प्रतिबंध लगाए जाने के साथ, होटल व्यवसायी और रेस्तरां संचालक बुकिंग रद्द होने की आशंका जता रहे हैं। इस आशंका के बीच वे सरकार से कुछ सहयोग की उम्मीद कर रहे हैं जैसा कि ब्रिटेन सरकार ने वहां होटल और रेस्तरां एवं अन्य संबंधित उद्योग के लिए किया है।

विभिन्न स्थानों से विभिन्न सूचनाएं

फेडरेशन ऑफ एसोसिएशन इन इंडियन टूरिज्म एंड हॉस्पिटैलिटी (एफएआईटीएच) के सलाहकार मुख्य कार्यपालक अधिकारी आशीष गुप्ता ने कहा कि ओमिक्रॉन के प्रभाव के बारे में उद्योग के भीतर अनिश्चितता है और इसकी गंभीरता और प्रसार की गति के बारे में विभिन्न स्थानों से विभिन्न सूचनाएं आ रही हैं।

दवा, स्वास्थ्य उद्योग को उम्मीद, वर्ष 2022 में बनी रहेगी वृद्धि की रफ्तार

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चुनौतीपूर्ण समय में कोविड-19 रोधी टीके की वैश्विक जरूरतों में से 60 फीसदी की आपूर्ति करके भारतीय दवा एवं स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े उद्योग ने दुनिया के सामने अपनी ताकत को साबित कर दिखाया है। अब यह उद्योग बीते दो वर्ष के अनुभव के आधार पर सरकार के साथ अपनी साझेदारी को मजबूत करने और 2022 में भी रफ्तार को कायम रखने के लिए प्रयासरत है।

भारत की दवा कंपनियों के संगठन ‘ऑर्गेनाइजेशन ऑफ फार्मास्युटिकल प्रोड्यूसर्स ऑफ इंडिया (ओपीपीआई)’ के महानिदेशक के जी अनंतकृष्णन ने ‘पीटीआई-भाषा’ से कहा, ”वैश्विक महामारी के दौरान जो फायदा हुआ है, उसे बनाए रखना उद्योग के लिए आवश्यक है।”