Urfi Javed पढ़ रहीं भगवद गीता, इस्लाम में नहीं यकीन, बताया मुस्लिम से क्यों नहीं करेंगी शादी

बिग बॉस ओटीटी से पहले हफ्ते में ही बाहर होने वाली उर्फी जावेद अपने अतरंगी और बोल्ड आउटफिट्स सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर छाए रहती हैं. उर्फी की बढ़ती हुई पॉपुलैरिटी का पूरा क्रेडिट उनके कपड़ों और ड्रेसिंग सेंस को ही जाता है. उर्फी ने बीते दिनों इंस्टाग्राम स्टोरी पर अपनी फोटो शेयर की थी और लिखा था कि वह भगवद गीता पढ़ रही हैं। उनका एक इंटरव्यू सुर्खियों में है। इसमें उन्होंने कहा है कि वह मुस्लिम लड़के से शादी नहीं चाहतीं।

ऐसा क्यों है इसकी वजह भी बताई है।

उर्फी ने इंटरव्यू में कहा- मैं कभी भी मुस्लिम लड़के से शादी नहीं करूंगी. मैं इस्लाम में यकीन नहीं रखती हूं और मैं कोई भी धर्म फॉलो नहीं करती हूं. इसलिए मुझे परवाह नहीं है कि मैं किस से प्यार करती हूं. हमें उसी से शादी करनी चाहिए, जो हमें पसंद हो.

खुद को मानती है ओवर द टॉप

उर्फी जावेद अपनी लाइफ बिंदास जीती हैं। कपड़ों के मामले में भी उनकी चॉइस कुछ लोगों को बोल्ड लगती है तो कुछ को ओवर द टॉप। उनका कहना है कि यह उनके कपड़ों में भी झलकता है। कपड़ों की वजह से उन्हें अक्सर ट्रोल किया जाता है।

मुस्लिम करते हैं नफरत वाले कमेंट्स

उर्फी ने कहा कि समाज उनके बोल्ड लुक्स इसलिए नहीं स्वीकार करता क्योंकि इंडस्ट्री में उनका कोई गॉड फादर नहीं है। वहीं सबसे बड़ी बात ये है कि वह मुस्लिम हैं। उर्फी ने कहा, मैं मुस्लिम लड़की हूं। मुझे नफरत वाले जितने भी कमेंट्स मिलते हैं वे मुस्लिमों के ही होते हैं।

इसलिए नहीं इस्लाम पर यकीन

लोग कहते हैं कि मैं इस्लाम की छवि बिगाड़ रही हूं। वे मुझसे नफरत करते हैं क्योंकि मुस्लिम पुरुष चाहते हैं कि उनकी महिलाएं एक खास दायरे में रहें। वे समुदाय की सारी महिलाओं को ही कंट्रोल करना चाहते हैं।

बताया क्यों नहीं बनाएंगे मुस्लिम को हमसफर

उर्फी ने बताया कि वह मुस्लिम लड़के से कभी शादी नहीं करेंगी। क्योंकि वे अपनी सोच के हिसाब से महिलाओं को कंट्रोल करते हैं। उन्होंने बताया कि वह इस्लाम में यकीन नहीं करतीं और किसी धर्म को फॉलो नहीं करतीं। उर्फी ने कहा, मुझे फर्क नहीं पड़ता कि मुझे किससे प्यार होता है। हम जिसे चाहें उससे शादी कर लेनी चाहिए।

पिता ने किया टॉर्चर

उर्फी अपने पिता के साथ तनावभरे रिश्ते के बारे में कई बार बात कर चुकी हैं। उन्होंने कहा, मेरे पिता बहुत रूढ़िवादी आदमी थे। उन्होंने मुझे और मेरे भाई-बहनों को मेरी मां के साथ तब छोड़ दिया जब मैं 17 साल की थी। मेरी मां बहुत धार्मिक हैं पर अपना धर्म हम पर कभी नहीं थोपा।

इस वजह से पढ़ रही हैं गीता

उर्फी कहती हैं, इस वक्त मैं भगवत गीता पढ़ रही हूं। मैं इस धर्म (हिंदू) के बारे में जानना चाहती हूं। मैं इसकी लॉजिकल बातों में ज्यादा इंट्रेस्ट ले रही हूं। मुझे कट्टरता नहीं पसंद है, मैं इस पवित्र किताब से अच्छी चीजें ले रही हूं।

5 बजे के बाद घर से निकलना था मना

उर्फी जावेद अपने इंटरव्यूज में पहले बता चुकी हैं कि उनके परिवार में महिलाएं 5 बजे के बाद बाहर नहीं जा सकती थीं। उन्होंने बताया था कि उनके पिता ने उनको मेंटली और फिजिकली टॉर्चर किया है।

अपना नाम तक भूल गई थीं उर्फी

उर्फी लखनऊ से हैं और उन्होंने बताया था कि 11वीं क्लास में उनकी तस्वीरें किसी ने अडल्ट साइट पर अपलोड कर दी थीं। इसके बाद उनके रिश्तेदार उनको पोर्न स्टार समझने लगे थे। उर्फी ने बताया था कि पिता ने इतना टॉर्चर किया था कि वह अपना नाम तक भूल गई थीं। उर्फी का कहना है कि उनके बुरे पास्ट की वजह से ही वह इतनी रिबेलियस हो गई हैं।