हो गए फेरे, भर गई मांग, कन्यादान के वक्त दुल्हन ने कर दिया शादी से इंकार, जानें पूरा मामला

अलीगढ़: बेहद हैरान करने वाला सामने आया है. यहां एक शादी में दूल्हा-दुल्हन ने सात फेरे ले लिए. मांग भराई की रस्म हो गई, लेकिन कन्यादान के वक्त दुल्हन ने दुल्हे को अपना पति मानने और शादी की बची हुई रस्मों को करने से इंकार कर दिया. जिसके बाद जमकर हंगामा शुरू हो गया. हंगामे की जानकारी होते ही पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. फिलहाल दोनों पक्षों में कोई सुलह नहीं हो सकी है.

क्या है पूरा मामला?

मामला अलीगढ़ के थाना छर्रा इलाके के गांव सिरौली का है. जानकारी के मुताबिक, बुलंदशहर के सालाबाद गांव से विकास की बारात सिरौली में आई थी. यहां लड़की पक्ष ने धूमधाम से बारातियों और दूल्हे का स्वागत किया. बारातियों ने खाना पीना खाया. जयमाला भी हो गई. इसके बाद दूल्हा-दुल्हन ने फेरे लिए. मांग भराई भी हो गई, लेकिन जैसे ही मंडप में कन्यादान के वक्त हाथों में हल्दी लगाने की रश्म अदाई के लिये दूल्हे ने हाथ आगे बढ़ाया तो अचानक दुल्हन चिल्ला उठी. उसने शादी की आगे की रस्मों को करने से मना करते हुए शादी से इंकार कर दिया. दरअसल, दूल्हे के एक हाथ की तीन उंगलियां कटी हुई हैं. जिसको देखकर दुल्हन ने लड़के को अपना पति बनाने से और शादी की बाकी रस्में करने से मना कर दिया

दुल्हन पक्ष पर लगा आरोप

वहीं, दुल्हन के शादी से इंकार करने के बाद हंसी-खुशी चल रहे कार्यक्रम में खलल पड़ गया. दुल्हन ने आरोप लगाया है कि लड़के पक्ष वालों ने दूल्हे के हाथों की उंगलियां कटी होने की जानकारी छिपाई और सभी को धोखे में रखा. दुल्हन पक्ष पर आरोप है कि दोनों ही बिचौलियों को बंधक बना लिया है. वहीं, दूल्हे पक्ष का कहना है कि कटी उंगलियों की जानकारी दी गई थी. उसके बाद ही शादी तय हुई. यही वजह है कि शादी का कार्यक्रम लगभग पूरा हो गया, लेकिन विदाई से इंकार कर दिया गया है

मौके पर पहुंची पुलिस 

वहीं, हंगामे की सूचना पर स्थानीय पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. फिलहाल दूल्हा पूरी बारात के साथ दुल्हन विदाई के लिए इंतजार कर रहा है. वहीं, दुल्हन शादी में आगे होने वाली विदाई की रस्म के लिए तैयार नहीं है.