राजभर फिर देंगे योगी का साथ?

उत्तर प्रदेश में 2022 के विधानसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रहे हैं, सियासी रंग भी उसी तरह से बदल रहे है। बीते काफी समय से बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर एक बार फिर से बीजेपी के साथ जाने को तैयार हैं।  हालांकि इसके लिए राजभर ने शर्त रखी है।

अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा

भागीदारी संकल्प मोर्चा के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि सामाजिक न्याय समिति के अलावा स्नातकोत्तर तक मुफ्त शिक्षा, घरेलू बिजली बिल माफी, शराबबंदी, पुलिस की बॉर्डर सीमा, पुलिसबल को साप्ताहिक छुट्टी, होमगार्ड को पुलिस के समान सुविधा देने पर अगर बीजेपी तैयार हो तो गठबंधन को तैयार हैं।

राजनीति में संभावना बनी रहती है

एसबीएसपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर लखनऊ में कहा कि 27 अक्टूबर को मऊ के हलधरपुर में वो बड़ी पंचायत करने जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस पंचायत के दौरान यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर सुभासपा के गठबंधन का एलान किया जाएगा। इस दौरान ओम प्रकाश राजभर ने बीजेपी से भी गठबंधन होने की संभावना से इंकार नहीं किया। राजभर ने इस दौरान कहा कि भाजपा अगर समर्थन करती है तो उनका भी स्वागत है। राजनीति में संभावना बनी रहती है।

अक्टूबर तक बहुत सी तस्वीर हो जाएगी साफ

बता दें कि इससे पहले ओम प्रकाश राजभर ने दावा किया था कि भारतीय जनता पार्टी के 150 विधायक उनके संपर्क में हैं। 27 अक्टूबर तक बहुत सी तस्वीर साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा था कि वो 2017 में भारतीय जनता पार्टी के साथ थे, आज नहीं हैं, आज भागीदारी संकल्प मोर्चा बनाया है और 403 सीटों पर चुनाव लड़ने की तैयारी में हैं। पहले साथियों को संतुष्ट करेंगे।

राजभर के बयान के बाद बहरहाल इतना साफ दिख रहा है कि उनकी बीजेपी साथ वापसी लगभग तय है..ऐसे में अब सबकी नजर 27 अक्टूबर को मऊ के हलधरपुर में होने वाली राजभर की पंचायत में टिक गई है। जहां गठबंधन की तस्वीर साफ हो सकती है।